निवाई कृषि मंडी चालू करवाने को लेकर श्रमिकों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन

टोंक, ।  निवाई पल्लेदार यूनियन सीटू ने जिला कलेक्टर टोंक को ज्ञापन भेजकर बताया हैं कि निवाई कृषि उपज मंडी में विगत 16 मई से व्यापारियों की एवं मंडी प्रशासन की हटधर्मिता के चलते कृषकों की जिन्सों की निलामी बंद हैं। जिससे राज्य सरकार को होने वाली आय से हाथ धोना पड रहा हैं । …

निवाई कृषि मंडी चालू करवाने को लेकर श्रमिकों ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन Read More »

May 30, 2018 1:43 pm

टोंक, ।  निवाई पल्लेदार यूनियन सीटू ने जिला कलेक्टर टोंक को ज्ञापन भेजकर बताया हैं कि निवाई कृषि उपज मंडी में विगत 16 मई से व्यापारियों की एवं मंडी प्रशासन की हटधर्मिता के चलते कृषकों की जिन्सों की निलामी बंद हैं। जिससे राज्य सरकार को होने वाली आय से हाथ धोना पड रहा हैं । वही श्रमिकों को भी एक पखवाडे से हाथ पर हाथ धरे बैठे रहने के लिए विवश कर दिया । अविलब जिन्सों की निलामी की व्यवस्था करवाई जाये । निवाई पल्लेदार यूनियन सीटू के अध्यक्ष दुर्गालाल ने जिला कलेक्टर को भेजे ज्ञापन में बताया हैं कि निवाई कृषि उपज मंडी मंडी सचिव की व्यापारियों से मिलीभगत की वजह से विगत 16 मई से निलामी बंद हेंै। जिससे मंडी को होने वाली आय से वंचित होना पड रहा हैं। पल्लेदारों द्वारा मंडी सचिव से बार बार निलामी चालू करवाने के आग्रह के बाद ना तो मंडी सचिव और ना ही मंडी व्यापारी इस और ध्यान दे रहे है। पल्लेदारों ने बताया कि विगत 16 मई से मंडी में निलामी नही होने से सैकडों किसान अपनी जिन्सों को खुले में लेकर बैठे हैं। ऐसे में किसानों को अनावश्यक उनका कीमती समय भी बर्बाद हो रहा हैं। लेकिन मंडी सचिव एवं यहां के व्यापारियों द्वारा कोई ध्यान नही दिया जा रहा। पल्लेदारों ने बताया कि यहां पल्लेदारो कोई काम बंद नही किया हुआ हैं । उन्होने बताया कि व्यापारियों द्वारा अलग से अपने नियम कायदे कानून चलाते हैं। जो असवेंधानिक अतार्किक ही नही श्रमिक नियमों के विरूद्ध भी हैं। पल्लेदारों ने राज्य के कृषि मंत्री,शासन सचिव कृषि एवं  जिला कलेक्टर से मांग की हैं कि अविलब मंडी को चालू करवाया जाए ताकि किसानों को हो रही परेशानी से बचाया जा सके एवं मंडी को होने वाली हानि से बचाया जा सके । ज्ञापन देने वालों में गोविन्द नायक,भगवान खटीक, बाबूशाह, कालू कुहार,शंकरलाल,कजोड सांई,रामेश्वर जौलियां,देवालाल डोई हनुमान बना,मुल्ला कुरेशी,रमेश चौहान,सीताराम गुर्जर एवं ओमप्रकाश रैगर आदि शामिल थे ।

Prev Post

शहरवासियों को शीघ्र ही मिलेगी पेयजल की प्रतिदिन सप्लाई-अजीत सिंह मेहता

Next Post

मजदुर की बेटियों ने किया पिता का नाम रोशन

Related Post

Latest News

उदयपुर घटना - भीलवाड़ा, टोंक व नागौर अजमेर में नेट बंद
राजस्थान में नुपूर शर्मा के समर्थक दर्जी की दूकान में घुस खुलेआम से नृशंस हत्या, आरोपियों ने किया वीडियों वायरल, नुपूर व पीएम मोदी को धमकी

Trending News

स्थापना दिवस पर देशवाली मदद फाउंडेशन ने कि शिक्षण सामग्री वितरित
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल से 3 दिवसीय प्रवास पर रहेंगे जोधपुर
शिक्षा विभाग- राष्ट्रीय शिक्षा नीति 6 हजार शिक्षकों को प्रशिक्षण 23 तक

Top News

उदयपुर घटना - भीलवाड़ा, टोंक व नागौर अजमेर में नेट बंद
राजस्थान में नुपूर शर्मा के समर्थक दर्जी की दूकान में घुस खुलेआम से नृशंस हत्या, आरोपियों ने किया वीडियों वायरल, नुपूर व पीएम मोदी को धमकी
अधिकारी को नेता से जान का खतरा, Whatsaap पर शेयर किया दर्द 
सीएम गहलोत आज से 3 दिन अपने गृह जिले जोधपुर के दौरे पर, दो समुदायों के बीच दूरियां कम करने पर रहेगा फोकस!
स्थापना दिवस पर देशवाली मदद फाउंडेशन ने कि शिक्षण सामग्री वितरित
शिक्षा विभाग - संस्था प्रधान और शिक्षक होंगे सम्मानित,निदेशक अग्रवाल का नवाचार,और..
डॉक्टर व शिक्षक परिवार ने सामूहिक आत्महत्या नहीं की , हत्या की गई थी , दो गिरफ्तार 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बड़ी घोषणा, 'प्रदेश का अगला बजट युवा केंद्रित होगा'