टोंक

टोंक पारिवारिक न्यायालय का एतिहासिक फैसला, बाल विवाह को किया निरस्त, 18 वर्ष से झेल रही थी बाल विवाह का दंश, जोधपुर सारथी ट्रस्ट ने की मदद

Tonk News (फ़िरोज़ उस्मानी)। टोंक के पारिवारिक न्यायालय के न्यायधीश धर्मेंद्र शर्मा ने आज टोंक ज़िले के रानोली ग्राम निवासी 20 वर्षीय बालिका वधु संजू के पक्ष में फैसला सुनाते हुए महज 2 वर्ष की अबोध आयु में हुए बाल विवाह को निरस्त करने के आदेश पारित किए है।

बाल विवाह निरस्त करने का पहला एतिहासिक फैसला सुनाया गया है। है। टोंक जिले में बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के तहत कानूनन पहला बाल विवाह निरस्त हुआ है। महज दो साल की अबोध आयु में बाल विवाह के पिंजरे में कैद टोंक जिले के ग्राम रानोली की बीस वर्षीय बालिका वधु संजू ने सारथी ट्रस्ट की की डॉ कृति के माध्यम से टोंक पारिवारिक न्यायालय में अपने बाल विवाह को निरस्त करने की अपील की थी।

जानकारी के अनुसार बालिका वधु संजू का बाल विवाह वर्ष 2003 में समाज के दबाव में बड़े बुजुर्गों ने करवा दिया था। बाल विवाह के समय उसकी आयु महज 2 वर्ष ही थी। जब वो कुछ समझदार हुई तो उसने अपने बाल विवाह का विरोध किया। इसी बीच पिता की हार्ट अटेक से मृत्यु हो गई।

संजू के पिता ने मरने से पूर्व बाल विवाह निरस्त करने की अंतिम इच्छा जताई थी। इसके बाद सारथी ट्रस्ट जोधपुर उसकी मदद को आगे आई।

ट्रस्ट के माध्यम से संजू अब अपने बाल विवाह से मुक्त हो गई है। संजू आरएएस बनना चाहती है। बाल विवाह जैसे दंश को झेल रही बालिकाओं के लिए न्यायालय का ये फैसला आने वाले समय मे मील का पत्थर साबित होगा।

 

बाल विवाह के बंधन से मुक्त

पारिवारिक न्यायालय टोंक में संजू के साथ डाॅ.कृति भारती ने पेश होकर न्यायालय को बाल विवाह संबंधी तथ्यों से अवगत करवा पैरवी की।

जिसके बाद पारिवारिक न्यायालय के न्यायाधीश धर्मेन्द्र शर्मा ने बालिका वधु संजू के 18 साल पहले महज दो साल की उम्र में हुए बाल विवाह को निरस्त करने का ऐतिहासिक फैसला सुनाया। जिसके साथ ही टाेंक जिले का कानूनन पहला बाल विवाह निरस्त हुआ।

बाल विवाह निरस्त में सिरमौर

जोधपुर के सारथी ट्रस्ट की डॉ.कृति भारती ने देश का पहला बाल विवाह निरस्त करवाया था। डाॅ.कृति ने अब तक राजस्थान में 42 जोड़ों के बाल विवाह निरस्त करवाने के अलावा 1500 से अधिक बाल विवाह रूकवाने के आधा दर्जन से अधिक रिकॉर्ड कायम कर रखा है।

डाॅ.कृति की साहसिक मुहिम को सीबीएसई पाठ्यक्रम में भी शामिल किया गया। डॉ.कृति भारती का नाम वर्ल्ड टाॅप टेन एक्टिविस्ट, बीबीसी 100 वुमन सूची में शुमार है वहीं कई राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय सम्मानों से नवाजा जा चुका है।

 

Firoz Usmani
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।