नि:शुल्क स्कूल बैग एवं स्टेशनरी वितरित आह्वान जनकल्याण एवं सेवा समिति के स्थापना दिवस और संत दुलाराम कुलरिया की पुण्यतिथि पर हुआ कार्यक्रम

आफरीदी ने संत कुलरिया का स्मरण करते हुए कहा कि संत दुलाराम कुलरिया का संपूर्ण जीवन गौसेवा एवं मानव सेवा को समर्पित रहा। उनसे प्रेरणा लेकर हमें पीड़ित मानव की सेवा करनी चाहिए। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एवं राजस्थान हिंदी  ग्रंथ अकादमी निदेशक बीएल सैनी ने कहा कि स्कूल के स्टूडेंट्स को मेरी ओर से जल्द ही चंदा मामा, चंपक एवं कॉमिक्स उपलब्ध कराई जाएगी

जयपुर 

राजकीय विद्यालयों में शिक्षा ग्रहण कर मेरे जैसे कई लोग अधिकारी बने। सुख-सुविधाओं से परिपूर्ण निजी विद्यालयों में शिक्षा ग्रहण कर रहे छात्र ही हर क्षेत्र में बाजी मारे ऐसा आवश्यक नहीं। लग्न और सच्ची मेहनत से किसी भी लक्ष्य को भेदा जा सकता है। आह्वान जनकल्याण एवं सेवा समिति के स्थापना दिवस एवं संत दुलाराम कुलरिया की चतुर्थ पुण्यतिथि के अवसर पर मंगलवार को अग्रवाल फार्म स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में नि:शुल्क स्कूल बैग एवं स्टेशनरी वितरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए मुख्यमंत्री के विशेषाधिकारी फारुक आफरीदी ने यह बात कही।

आफरीदी ने संत कुलरिया का स्मरण करते हुए कहा कि संत दुलाराम कुलरिया का संपूर्ण जीवन गौसेवा एवं मानव सेवा को समर्पित रहा। उनसे प्रेरणा लेकर हमें पीड़ित मानव की सेवा करनी चाहिए। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एवं राजस्थान हिंदी  ग्रंथ अकादमी निदेशक बीएल सैनी ने कहा कि स्कूल के स्टूडेंट्स को मेरी ओर से जल्द ही चंदा मामा, चंपक एवं कॉमिक्स उपलब्ध कराई जाएगी।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नए बजट में बाल साहित्य अकादमी खोलने की घोषणा कर बच्चों के प्रति विशेष अनुराग को व्यक्त किया। संभवत: अगले वर्ष से ही बाल साहित्य अकादमी का शुभारंभ हो जाएगा। उन्होंने हिंदी भाषा के महत्व पर भी प्रकाश डाला। विद्यालय की वरिष्ठ शिक्षिका मधुबला ओझा के निर्देशन में छात्र-छात्राओं ने विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। बेड टच-गुड टच कविता ने सबका ध्यान आकृष्ट किया।

इस अवसर पर आह्वान संरक्षक एवं ऑल इंडिया ब्राह्मण फैडरेशन के राष्ट्रीय सचिव रमेश ओझा, संस्था कोषाध्यक्ष प्रमोद खत्री, समाजसेविका बिलकीश, सुशीला शर्मा, मंजू शर्मा, समाजसेवी बृजेंद्र चौधरी, फिरोज आफरीदी, मकसूद खान, योगेंद्र कुमार शर्मा, वरिष्ठ नागरिक सईद शेख और शहर के गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। विद्यालय के प्रधानाचार्य रमेश चंद्र केवलानी ने मंच संचालन किया।