कार के कट्टों में भरी थी डेढ़ करोड़ की अफीम

चित्तौडग़ढ़। जिले के निम्बाहेड़ा थाना क्षेत्र में कोतवाली पुलिस ने मादक पदार्थों के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई करते हुए लग्जरी कार से 71 किलो अफीम जब्त कर एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। कोतवाली! थानाधिकारी दर्शन सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर थाना क्षेत्र के कल्याणपुरा-केली मार्ग पर नाकाबंदी की गई। इस दौरान केली गांव की ओर से आ रही एक लग्जरी कार को रूकवाकर तलाशी ली गई। कार में कट्टों में भरी 71 किलोग्राम अफीम पाई गई। जब्त अफीम का बाजार मूल्य करीब डेढ़ करोड़ रुपए बताया जा रहा है। पुलिस ने अफीम व कार जब्त कर कार सवार आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित ने अपना नाम मध्यप्रदेश स्थित नीमच जिले के रेवली देवली गांव निवासी चौथमल उर्फ सुनील नागदा पुत्र नर्मदा शंकर नागदा बताया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस कार्रवाई के दौरान पुलिस जाब्ते में कोतवाली थानाधिकारी दर्शन सिंह के साथ एएसआई मुंशी मोहम्मद, कांस्टेबल महावीर सिंह, भूपेंद्र सिंह, सुरेन्द्र पाल, चंद्रकरण सिंह, हरविंदर, अमरपाल आदि शामिल थे। इसे देखते हुए इन्हें विभागीय स्तर पर पुरस्कृत किया जाएगा। मामले की जांच सदर थानाधिकारी संजय शर्मा को सौंपी गई है। नाकाबंदी के दो घंटे बाद आई कार थानाधिकारी ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि एक लग्जरी कार से अवैध अफीम की बड़ी खेप जावद से केली, कल्याणपुरा के रास्ते होकर जोधपुर जाने वाली है। इस सूचना पर पुलिस ने केली मार्ग के यहां मंगलवार सुबह चार बजे से ही नाकाबंदी शुरू कर दी। करीब दो घण्टे बाद छह बजे मुखबिर के बताए अनुसार केली की ओर से सिल्वर कार आती हुई दिखाई दी। इसे रोककर तलाशी ली गई तो 71 किलो 100 ग्राम अफीम पाई गई। उल्लेखनीय है कि कोतवाली पुलिस की ओर से पिछले दस साल में अवैध अफीम पकडऩे के मामले में यह सबसे बड़ी कार्रवाई है। पूरे उदयपुर संभाग में भी काफी लंबी अवधि के बाद इतनी बड़ी अफीम की खेप पकडऩे की ये पहली कार्रवाई है।