हनुमाननगर थाना पुलिस ने 24 घण्टे में किया हत्या का राजफाश

Deoli News :  हनुमान नगर थाना (Hanuman Nagar Thana)पुलिस ने गत दिनों  कुचलवाड़ा रोड़ (kuchalavada Road)से गत दिनों सदिंग्ध रुप से घायल अवस्था में मिले जयलाल की मृत्यु का मामला गुरुवार रात राजफाश कर दिया।

पुलिस(Police) की जांच मेें उक्त मामला हत्या(Murder) का निकला। इस पर पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

शाहपुरा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनुकृति उज्जेनिया(Shahpura Additional Superintendent of Police Anukreethy Ujjeniya) ने बताया कि मामले के सम्बन्ध में १७ जुलाई को मृतक जयलाल के भाई केसरलाल ने हत्या का मामला दर्ज करवाया था।

हत्या के मामले में पुलिस ने कुचलवाड़ा कलां (हनुमान नगर) निवासी नीरज गुर्जर व भीमराज गुर्जर को गिरफ्तार किया है। जबकि मामले में तीन आरोपियों की गिरफ्तारी अभी शेष है। आपको बता दे कि मृतक जयलाल लीवर रोग से पीडि़त था।

परिजनों ने उसे १४ जुलाई को राजकीय अस्पताल भर्ती करवाया। जहां वह १५ जुलाई की देर रात अपनी मां को बिना बताएं अस्पताल से गायब हो गया। बाद में जयलाल १६ जुलाई को संदिग्ध रुप से घायल अवस्था में मिला।

चोर होने की शंका के चलते मारपीट की-:

थाना प्रभारी राजकुमार ने बताया कि आरोपियों ने जयलाल पर चोर होने की शंका के चलते मारपीट की थी।  उन्होंने ने बताया कि कुचलवाड़ा कलां निवासी नीरज गुर्जर ने ही 108 एम्बूलेंस (108Ambulance)को जयलाल के कुचलवाड़ा रोड़ पर घायल अवस्था में होने की सूचना दी।

इसी आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरु की। इस दौरान पुलिस ने नीरज को पकडकर उससे पूछताछ की तो, उसके बयानों में विरोधाभास की स्थिति होने से उस पर शंका हुई।

कड़ाई से की पूछताछ तो, उगला सच-:

पुलिस(Police) ने उससे कड़ाई से पूछताछ की, जिसमें उसने बताया कि उसने १५ जुलाई की रात जयलाल को कुचलवाड़ा रोड़ क्षेत्र में संदिग्ध रुप से घूमते देखा। उसे जयलाल के चोर होने की शंका हुई।

१६ जुलाई को सुबह भी जयलाल को एक बार फिर घूमते देखा तो, उसे पक्का विश्वास हो गया कि, जयलाल चोर है। इस पर नीरज व उसके साथी भीमराज गुर्जर, लक्ष्मण दरोगा, ऋषिराज गुर्जर व गोरी शंकर मीणा ने उसे पकड़ लिया। इस दौरान आरोपियोंं ने जयलाल के साथ मारपीट की।

जिससे उसके सिर में गंभीर चोट आई। बाद में नीरज ने एम्बूलेंस को मामले की सूचना दी। बाद मेें जयलाल की जयपुर में उपचार के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि मामले अभी लक्ष्मण दरोगा, ऋषिराज गुर्जर व गोरी शंकर मीणा की गिरफ्तारी शेष है।

VIAManish bagdi
SOURCEManish bagdi
Previous articleटोंक जिले में बजरी माफिया का आतंक
Next articleजयपाल हत्याकांड का तीसरा आरोपी गिरफ्तार
परिचय- वर्ष 2000 से पिता श्री राजेन्द्र बागड़ी के मार्गदर्शन में पत्रकारिता क्षेत्र में प्रवेश किया। इस दौरान पत्रकारिता की शुरुआत कम्प्यूटर पर खबरे कम्पोज करने के साथ हुई। इसके साथ ही देवली में राजस्थान पत्रिका में प्रेस फोटोग्राफर व सहायक संवाददाता के रूप में काम किया। इस दौरान क्राइम, जनसमस्या, घटना, दुर्घटना, राजनैतिक आयोजन, धार्मिक से जुड़ी कई खबरें व स्टोरी कवर की। वर्ष 2009 से राजस्थान पत्रिका के भीलवाड़ा संस्करण में भी रिपोर्टर का कार्य शुरू किया। इसके अलावा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में 2017 से A1 TV rajasthan न्यूज़ चैनल में देवली रिपोर्टर के रूप में कार्यरत।