सोशल मीडिया पर भड़काऊ कमेंट को लेकर विवाद

सर्व समाज सेना के प्रदेश अध्यक्ष शंकर सिंह सेफरागुवार के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ  नारेबाजी की

Controversy over inflammatory comments on social media

सीकर

खेतड़ी उपखंड के बबाई गांव में सोशल मीडिया पर दो समुदायों के युवाओं के बीच भड़काऊ कमेंट के बाद रविवार को विवाद हो गया। दोनों ही समुदायों के युवक आमने-सामने हो गए और मामला मारपीट तक जा पहुंचा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने समझाइश कर मामले को शांत कराया। मामले को लेकर सर्व समाज के लोगों ने बबाई चौकी के सामने धरना दिया।

पुलिस ने बताया कि एक पक्ष के विजेंद्र कुमार तिवारी ने बताया कि वह अपने भाई आशीष और विकास मेहमानों को छोडऩे के लिए शनिवार रात को बबाई बस स्टैंड पर गए थे। आते समय सेठ वाले बालाजी मंदिर के पास  समुदाय विशेष के शाहरुख,साहिल,  डैनी, गुड्डी, अख्तर और 10 से 15 युवकों ने मिलकर दोनों से मारपीट की और  कहा कि हमारे खिलाफ सोशल मीडिया पर कमेंट किया तो यही अंजाम होगा। वहीं दूसरे पक्ष के मोइनुद्दीन ने बताया कि 12 जुलाई को सोशल मीडिया पर आशीष ने मैसेज जारी किया कि अगर अमरनाथ यात्रा में कोई घटना हुई तो हम अजमेर दरगाह जहनुम में देखेंगे। मामले को रविवार को गांव में तनाव हो गया।

प्रशासन को 72 घंटे का दिया समय 

माहौल बिगड़ते देख बाजार बंद हो गए। सूचना पर डीएसपी मोहम्मद अयूब ,थाना अधिकारी शीशराम मीणा, तहसीलदार बंशीधर योगी, खेतड़ी नगर थाना अधिकारी किरण यादव, बुहाना थाना अधिकारी देवेंद्र प्रताप सिंह, पचेरी कला थाना अधिकारी भरत लाल मीणा बाबई चौकी पहुंचे और आक्रोशित भीड़ को समझाइश कर नियंत्रित किया। इसी दौरान  सर्व समाज सेना के प्रदेश अध्यक्ष शंकर सिंह सेफरागुवार के नेतृत्व में सैकड़ों युवाओं ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ  नारेबाजी की।

सर्व समाज की ओर से सैकड़ों युवाओं ने प्रशासन को निष्पक्ष जांच करते हुए 72 घंटे का समय दिया और दोषियों के खिलाफ  कार्रवाई की मांग की। युवाओं ने मांग पूरी नहीं होने पर खेतड़ी थाने का घेराव करने की चेतावनी दी।

फिल्म अभिनेता सलमान खान की बहुचर्चित फिल्म सुल्तान के नाम से  समुदाय विशेष के युवाओं की ओर से सोशल मीडिया का गु्रप संचालित किया जा रहा है। जिस पर समाज और समुदाय पर भड़काऊ भाषा का प्रयोग किया जाता है जिसके चलते बबाई के ग्रामीणों में काफी रोष है। सर्व समाज के युवाओं ने वार्ता के दौरान पुलिस के सामने मांग रख कर कार्रवाई करने की गुहार लगाई। साथ ही ग्रामीणों ने बताया कि इन युवाओं ने ड्रेस कोड के लिए सुल्तान नाम की टी-शर्ट भी बना रखी है,जिनको पहनकर कस्बे में यह युवा बाइकों पर घूमते है।