टोंक नगर परिषद सभापति के लिए अली अहमद बाबा और लक्ष्मी जैन के भाग्य का फैसला आज

  • नगर परिषद सभापति के लिए मतदान और मतगणना आज

Tonk News – टोंक जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी के.के.शर्मा ने बताया कि नगर परिषद आम चुनाव के अंतिम चरण में मंगलवार को नगर परिषद सभाभवन अग्निषमन केन्द्र परिसर में सभापति का चुनाव होगा । सभापति के लिए भाग्य अजमा रहे कांग्रेस के अली अहमद बाबा और  भाजपा की लक्ष्मी जैन के भाग्य का फैसला होगा।

जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी के.के.शर्मा ने बताया कि नगर परिषद के नव निर्वाचित पार्षदों की बैठक होगी। तत्पष्चात प्रात: 10 बजे से मध्यान्ह पष्चात दो बजे तक मतदान होगा । मतदान पूर्ण होने के बाद तत्काल मतगणना होगी ।

नगर परिषद सभापति के चुनाव के लिए अग्रिशमन कार्यालय में रिर्टनिंग आफिसर नवनीत कुमार के निर्देशन में लगी टीम ने सभी तैयारियां सभापति चुनाव के लिए पूर्ण कर ली है और चुनाव के दौरान शांति व्यवस्थाएं रखने के लिए पुलिस प्रशासन ने व्यापक सुरक्षा के इंतेजाम किए है।

नगर परिषद सभापति चुनाव के लिए मंगलवार को सुबह 10 से 2 बजे तक मतदान होगा और उसके बाद मतगणना होगी। जिसके लिए नगर परिषद अग्रिशमन कार्यालय पर रिर्टनिंग आफिसर नवनीत कुमार ने टीम के साथ मत डलवाने के लिए सभी व्यवस्थाओं को अन्तिम रुप दे दिया है। इधर वहां पर चुनाव परिणाम जानने की उत्सुकता के चलते दोनो ही दलों के समर्थक भारी संख्या में एकत्रित होंगे।

दोनो ही तरफ से जमकर नारेबाजी की उम्मीद भी है, ऐसे में शांति व्यवस्था बनाएं रखने के लिए पुलिस को चौकस रहना होगा। पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू के निर्देशानुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन शर्मा की निर्देशन में शहरभर में सुरक्षा के माकूल इंतेजाम किए गए है।

नगर परिषद सभापति चुनाव में एक ओर कांग्रेस से प्रदेश कांग्रेस सह संयोजक सऊद सईदी के साले अली अहमद उर्फ बाबा जो पहली बार चुनाव जीतकर वार्ड 7 से आएं और सभापति के लिए भाग्य अजमा रहे है। जहां कांग्रेस ने पार्षदों की बाड़ेबंदी कर मतदान की सभी तैयारियां पूरी कर ली है।

बीती रात को कांग्रेस व कांग्रेस की बाड़े में बंद निर्दलीय पार्षदों ने उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मुलाकात की और उन्हे विश्वास दिलाया हैँ कि टोंक में कांग्रेस का सभापति बनना तय है। वही भाजपा से भाग्य अजम रहे वर्तमान सभापति लक्ष्मी जैन भी भाजपा व निर्दलिय पार्षदों की बाडेबंदी केे साथ है और भाजपा टोंक में पुन: अपना सभापति बनने का दावा कर है और कांग्रेस खेमे में सेंधमारी में लगे है। मंगलवार को मतगणना के बाद इसका फैसला होगा कि किसका भाग्य प्रबल है और कौन सभापति बनेगा?