Rajasthan Congress
टोंक राजस्थान

राजस्थान कांग्रेस की स्थिति ऐसी जैसे दिल के टुकड़े हज़ार हुए,,एक यहां गिरा एक वहां,, सतीश पूनियां ने साधा निशाना, मंत्रियों के इस्तीफे स्वीकारें स्पीकर,

टोंक,(फ़िरोज़ उस्मानी)। कांग्रेस की स्थिति तो फिल्मी गाने की तरह हो गई है, दिल के टुकड़े हज़ार हुए एक यहां गिरा, एक वहां गिरा,
गुलाम नबी आजाद से लेकर कई नेताओं ने कांग्रेस से नाता तोड़ लिया। जिसका मायने है कि कांग्रेस की नीति व विचार में बहुत ज़्यादा अंतर है, ये कहना है भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डॉ, सतीश पूनियां का। सतीश पूनियां आज एक दिवसीय टोंक दौरे पर रहे।

पूनियां टोंक के नेशनल हाईवे के पास स्थित एक निजी कॉलेज में जिले की सुकन्या समृद्धि योजना का शुभारंभ करने पहुचे थे, इस मौके पर 57 बालिकाओ को सुकन्या समृद्धि योजना के खाते की डायरी सौपकर शुरुआत की।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महिला सशक्तिकरण अभियान के तहत राजस्थान मे एक लाख बालिकाओं का सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खोलने का लक्ष्य रखा है जिसके तहत आज संगठन की दृष्टि से टोंक जिले से इसकी शुरुआत की गई, लेकिन कार्यकर्ताओ के उत्साह को देखकर उसे बढ़ाकर 5 लाख के लक्ष्य को जन आंदोलन से पाने का प्रयास करने की बात कही।

योजना के गिनाए फायदे

इस दौरान मंच से संबोधन के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के जहां फायदे गिनाते हुए इसे गरीब और जरूरतमंद परिवार की बेटियों के लिए उपयोगी बताया । उन्होंने कहा कि योजना गरीब बच्चों को ड्रॉपआउट से बचाएगी और उनकी पढ़ाई के लिए बहुत फायदेमंद होगी।

कांग्रेस पर साधा निशाना

इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस को भी आड़े हाथों लेते हुए कांग्रेस संगठन के बिखराव व राजस्थान में अस्थिरता के साथ साथ 2023 में भाजपा के दो तिहाई बहुमत से जीत का दावा भी किया।

राजस्थान में हालात स्थिर

राजस्थान में कांग्रेस बुरी तरह से बिखराव पर है, अभी तो ये ही पता नही लग रहा 80 से 90 लोगों ने इस्तीफा दे दिया जिसमें मंत्री भी शामिल है, राजस्थान में राजनैतिक अस्थिरता है। जिसको लेकर भाजपा पूरी तरह तैयार है, 2023 में दो तिहाई बहुमत से भाजपा की सरकार बनाएंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने जो लोककल्याण का मार्ग दिखाया है उस पर चलेंगे।

कांग्रेस नेता रामबिलास पर भी बोले

कांग्रेस पीसीसी सदस्य व पूर्व जिलाध्यक्ष रामबिलास चौधरी के साथ पुलिस द्वारा अभद्रता मामले में बोलते हुए पूनियां ने कहा कि प्रशासन व राजनीति ये समाज के अहम हिस्से है। जिससे समाज व व्यवस्था चलती है,इसमे किसी को अहंकार की ज़रूरत नही होती, दोनों ही पक्षों को समझ कर आगे बढ़ना चाहिए, जनप्रतिनिधियों का भी सम्मान होना चाहिए, प्रशासन को भी समझदारी से फैसले लेने चाहिए। यही होता है जब सरकार उदासीन होती है तो यही स्थिति उत्पन्न होती है।

Firoz Usmani
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।