बस संचालक और व्यापारियों में तकरार

f.picture

दौसा । सबसे व्यवस्तत चौराहे पर एक बार फिर से यातायात पुलिस की गैर मौजूदगी देखने को मिली। यातायात पुलिसकर्मियों के ड्यूटी पर नहीं पहुंचने के कारण रोडवेज बस संचालक और व्यापारियों में तकरार हो गई। तकरार देखते ही देखते इतनी बाद गई की बस संचालक ने व्यापारी को गोली मारने की धमकी तक दे डाली। इससे व्यापारियों में रोष फैल गया और सभी कोतवाली थाने जा पहुंचे। थाने जाकर सुरक्षा की मांग की और बस संचालक के खिलाफ शिकायत दी। दरअसल कोतवाली इलाके में स्थित गांधी तिराहे पर दौसा, सवाई माधोपुर और अन्य जिलों की रोडवेज एवं निजी बसें ठहरती हैं। सवारियों को उठाने की आपाधापी इस कदर हावी रहती है कि अक्सर स्थानीय व्यापारियों से झगड़े हो जाते हैं। जबकि मौके पर पांच यातायात पुलिसकर्मियों की ड्यूटी रहती है, लेकिन वे भी यदा-कदा ही जगह पर मिलते हैं। आज सवेरे भी यही हुआ। सवाई माधोपुर रोडवेज के चालक ने दुकान के बाहर खड़े व्यापारी के वाहन को हटाने के लिए कहा, व्यापारी ने थोड़े समय बाद हटाने की बात कही तो बस चालक ने व्यापारी को पीटने की कोशिश की और गोली मारने की धमकी दे डाली। इसी बात से बवाल हो गया।