दिल्ली में राजे -शाह ने की मुलाक़ात नही बन सकी कोई सहमति प्रदेशाध्यक्ष के नाम पर 

जयपुर । बारह दिनों के बाद भी नही बन पाई सहमति  प्रदेश भाजपा के नए मुखिया को लेकर मची रार थमने का नाम नहीं ले रही है। विधायकों और मंत्रियों के आलाकमान को समझाइश के बाद कमान अब मु यमंत्री वसुंधरा राजे ने संभाल ली है। ऐसे में गुरूवार को सीएम दिल्ली पहुंच गई तथा …

दिल्ली में राजे -शाह ने की मुलाक़ात नही बन सकी कोई सहमति प्रदेशाध्यक्ष के नाम पर  Read More »

April 26, 2018 6:33 pm
जयपुर । बारह दिनों के बाद भी नही बन पाई सहमति  प्रदेश भाजपा के नए मुखिया को लेकर मची रार थमने का नाम नहीं ले रही है। विधायकों और मंत्रियों के आलाकमान को समझाइश के बाद कमान अब मु यमंत्री वसुंधरा राजे ने संभाल ली है। ऐसे में गुरूवार को सीएम दिल्ली पहुंच गई तथा वहां राष्टï्रीय नेताओं से मुलाकात भी की। हालांकि लंबी मंत्रणा के बाद भी प्रदेशाध्यक्ष की घोषणा नहीं होने के पीछे बताया जा रहा है कि किसी भी नाम पर सहमति नहीं बन पा रही है। वहीं केन्द्रीय नेतृत्व जोधपुर सांसद व केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत को ही प्रदेश में संगठन की कमान देने पर अडा हुआ है।
Raje-Shah did not meet in Delhi after the name of the state president
दोपहर को सीएम ने दिल्ली जाने के बाद पहले राष्ट्रीय संगठन मंत्री रामलाल से मुलाकात की तथा प्रदेश के राजनीतिक हालात की जानकारी दी। करीब एक घंटे तक चली मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं के बीच कई राजनीतिक मुद्दों पर  चर्चा हुई। इसके बाद वे वहां से चली गई। दोपहर बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी नागपुर से दिल्ली लौट आए और दोनों के बीच करीब एक घंटे से अधिक समय तक वार्ता हुई। संभावना थी कि दोनों की मुलाकात के बाद नाम की घोषणा हो जाएगी किन्तु नहीं हो पाई।
अन्य नामों पर भी विचार
मुख्यमंत्री और भाजपा संगठन के आला नेताओं के बीच हुई बैठक में गजेन्द्र सिंह शेखावत के अलावा अन्य नामों पर भी चर्चा हुई है। प्रदेश में जातिगत समीकरणों को देखते हुए ओम बिडला और अरुण चतुर्वेदी के नामों पर भी विचार किया गया। इसके अलावा बैठक में प्रदेशाध्यक्ष के साथ ही चुनाव संचालन समिति बनाने और उसमें शामिल किए जाने वाले नेताओं नामों पर बात की गई है।
सराफ और भडाना भी पहुुंंचे दिल्ली
प्रदेशाध्यक्ष को लेकर मचे घमासान के बीच गुरूवार को केबिनेट मंत्री कालीचरण सराफ और हेमसिंह भडाना भी दिल्ली पहुंचे। उनके अलावा विधानसभा उपाध्यक्ष राव राजेन्द्र सिंह भी दिल्ली में ही थे। राव राजेन्द्र सिंह ने शाम को सीएम के निजी निवास पर जाकर उनसे मुलाकात भी की। इधर, दोनों मंत्रियों ने अपने विभाग के कार्यों के लिए ही दिल्ली आने की बात कही है।

Prev Post

विवाहिता से दुष्कर्म किसी को बताने पर आरोपित ने उसे जान से मारने की धमकी

Next Post

योग अपनाकर स्वस्थ जीवन के रास्ते पर चलना शुरू किया- वसुंधरा राजे गोविंद गुरु जनजातीय विश्वविद्यालय भवन का शिलान्यास

Related Post

Latest News

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण
टोंक में रक्षाबंधन का त्यौहार पर ऐतिहासिक परंपरा जो राजपूत समाज कर रहा हैं, जानें
एसडीएम वर्षा मीणा एवं एसआई गौरव कुमार की सूझबूझ से टला हादसा

Trending News

समीक्षा बैठक में  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लिया बड़ा फ़ैसला, जानें 
आरक्षण में संशोधन के लिए ओबीसी के लोगों का विरोध-प्रदर्शन, रैली निकाल दी चेतावनी
Rajasthan में 200 पशु चिकित्साधिकारियों व 300 पशुधन सहायकों की होगी अस्थाई भर्ती 
खेल दिवस पर ग्रामीण ओलंपिक का आगाज़, 22 हजार खिलाड़ियों की 126 टीमों मे होगा महामुकाबला

Top News

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण
टोंक में रक्षाबंधन का त्यौहार पर ऐतिहासिक परंपरा जो राजपूत समाज कर रहा हैं, जानें
एसडीएम वर्षा मीणा एवं एसआई गौरव कुमार की सूझबूझ से टला हादसा
अब कभी भी खुल सकता है राजनीतिक व संगठनात्मक नियुक्तियों का पिटारा, गहलोत-माकन ने फाइनल किए नाम
वीडियो संदेश के जरिए सीएम गहलोत ने दी रक्षाबंधन की बधाई, राजस्थान को भी आगे बढ़ाने का आह्वान
सीएम गहलोत फिर पहुंचे दिल्ली, उपराष्ट्रपति धनकड़ के शपथग्रहण समारोह में करेंगे शिरकत
आईफ़ोन 14 को लेकर सबसे बड़ी ख़बर ,अब होगा मेड इन इंडिया होगा आई फ़ोन 14, जानें अब क्या होगी इसकी रेट
‘द ग्रेट इंडियन लाफ्टर चैलेंज- चैंपियंस’ राजू श्रीवास्तव को पड़ा दिल का दौरा
मोदी के कार्यकाल में भारत विकास की रफ्तार पकड़ रहा है - घनश्याम तिवाड़ी
जयपुर पुलिस का ये होगा नया प्रतीक चिन्ह ,महानिदेशक पुलिस  एम एल लाठर ने किया अनावरण