दूरी बनाई सांसद, विधायकों ने भाजपा की बैठक से

तबादलों की बात पर हुई बैठक स्थल के ठीक बाहर शिक्षामंत्री और विधायक मामन सिंह में तगड़ी नोंकझोंक फर्जी बूथों के झमेले में उलझी बैठक जयपुर (रोशन लाल शर्मा)। प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बुलाई गई भाजपा सांसदों, विधायकों और पदाधिकारियों की बैठक शुक्रवार को शिक्षा मंत्री और एक विधायक की तनातनी में …

दूरी बनाई सांसद, विधायकों ने भाजपा की बैठक से Read More »

June 1, 2018 2:57 pm
तबादलों की बात पर हुई बैठक स्थल के ठीक बाहर शिक्षामंत्री और विधायक मामन सिंह में तगड़ी नोंकझोंक
फर्जी बूथों के झमेले में उलझी बैठक
जयपुर (रोशन लाल शर्मा)। प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर बुलाई गई भाजपा सांसदों, विधायकों और पदाधिकारियों की बैठक शुक्रवार को शिक्षा मंत्री और एक विधायक की तनातनी में उलझ कर रह गई। बैठक में मूल रूप से फर्जी पाए गए करीब 25 हजार बूथों पर ही माथापच्ची होती रही।
खास बात यह है कि इस बैठक को भाजपा के सांसद और विधायकों ने भी गंभीरता से नहीं लिया। बैठक में करीब सौ विधायक और महज 13 सांसद ही शामिल हुए। जबकि इस बैठक में प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित पार्टी के अन्य बड़े पदाधिकारी मौजूद रहे। सांसदों और  विधायकों की गैर मौजूदगी को लेकर बैठक के दौरान चर्चा बनी रही। शहर के महावीर स्कूल सभागार में आयोजित इस बैठक की शुरूआत बिना प्रदेशाध्यक्ष के हुई। मंच पर मुख्यमंत्री वसुंधरा, प्रदेश प्रभारी सहित अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे। वहीं, बैठक से अधिकतर नेता दूरी बनाए रहे। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और केंद्र से आए संगठन पदाधिकारियों की मौजूदगी में ना तो पूरे विधायक जुट पाए और ना ही सांसद व अन्य नेता।
बीजेपी मीटिंग,जयपुर
विधायक और सांसद ही नहीं बल्कि पार्टी के महापौर और जिला प्रमुख भी अब सत्ता और संगठन से जुड़ी अहम बैठकों से दूरी बनाने लगे हैं। इस बैठक में  पार्टी के  साथ में से  पांच ही महापौर शामिल हुए जबकि  21 जिला प्रमुखों में से 9 जिला प्रमुखों ने ही इस अहम बैठक में आना उचित समझा।
आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति को लेकर लिए प्रदेश भाजपा की राज्यस्तरीय बैठक में रोडमैप तैयार किया गया। इस बैठक में सीएम वसुंधरा राजे, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना और प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर ने आगामी चुनाव को लेकर अपना विजन रखा, वहीं मंत्रियों, विधायकों, प्रदेश पदाधिकारियों से भी सुझाव मांगे। बैठक में मीडिया की एंट्री नहीं थी।
प्रदेशाध्यक्ष नहीं है तो परनामी ही ने दी बाइट
यह महत्वपूर्ण बैठक बिना प्रदेशाध्यक्ष के ही हुई। लेकिन पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी आज भी प्रदेशाध्यक्ष वाले किरदार में  नजर आए। उन्होंने मीडिया से बात की और कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे भी जल्द संभाग स्तरीय यात्रा पर निकलेंगी, साथ ही मंत्री समूहों की प्रदेश स्तरीय जनसम्पर्क यात्रा का भी रोडमैप तैयार हो रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के दुष्प्रचार का जवाब देने के लिए भाजपा के कार्यकर्ता तैयार है और कांग्रेस के दुष्प्रचार को रोकने के लिए भाजपा के कार्यकर्ता केंद्र और राज्य सरकार की लोक कल्याणकारी योजनाओं को जन-जन तक पहुंचा रहे है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उपचुनाव में भले ही भाजपा की हार हो गई हो, लेकिन आगामी विधानसभा चुनाव में मोदी लहर भी रहेगी और सीएम वसुंधरा राजे की भी लहर रहेगी।
यूं उलझे देवनानी और मामन सिंह
शिक्षा महकमे में तबादलों को लेकर हुई इस भिड़ंत में तिजारा से आने वाले भाजपा विधायक मामन सिंह यादव ने शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी को जमकर खरी-खोटी सुनाई। दोनों के बीच कहासुनी सभागार के बाहर हुई और दोनों ने एक दूसरे को देख लेने तक की धमकी दे डाली। हुआ यूं कि बैठक के दौरान शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी टॉयलेट करने के लिए सभागार से बाहर निकले, तब उनके पीछे-पीछे तिजारा से आने वाले भाजपा विधायक मामन सिंह यादव भी बाहर आ गए। यादव ने देवनानी को अपने क्षेत्र में प्रिंसिपलों के तबादलों को लेकर एक लंबी चौड़ी सूची थमा दी। ऐसे में देवनानी ने कहा कि आपके तबादले पहले कर दिए हैं, अब नहीं करूंगा। मामन सिंह ने कहा कि यदि आप नहीं करेंगे तो वह मुख्यमंत्री से इसकी शिकायत करेंगे। इस पर देवनानी ने कहा आपको जो करना है कर लो। गुस्साए विधायक मामन सिंह ने कहा कि मंत्री जी आप ज्यादा फन्ने खा मत बनिए, विधायक और मंत्री में महज एक कदम का ही अंतर होता है।

Prev Post

चुनावों के को नजदीक आते ही बूथ लेवल एवं पर्यवेक्षकों का प्रशिक्षण शिविर

Next Post

मालपुरा के पारली में दलित युवक की मौत का मामला

Related Post

Latest News

गहलोत पर पायलट का तंज सत्ता के बावजूद गजेंद्र सिंह के सामने चुनाव क्यों हारे ?
सचिन पायलट का मुख्यमंत्री पर पलटवार, पायलट ने दिया मुख्यमंत्री के आरोपों पर बड़ा बयान, मुख्यमंत्री ने पहले भी नकारा निक्कमा बोला,
प्रशिक्षु 79 आईएएस अधिकारियों को फील्ड प्रशिक्षण के लिए जिले आवंटित

Trending News

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल से 3 दिवसीय प्रवास पर रहेंगे जोधपुर
शिक्षा विभाग- राष्ट्रीय शिक्षा नीति 6 हजार शिक्षकों को प्रशिक्षण 23 तक
भाजपा प्रदेश संगठन महामंत्री चंद्रशेखर एक दिवसीय प्रवास 29 को भीलवाड़ा में
प्रशासन शहरों के संग अभियान-- 15 जुलाई से अब हर वार्ड में लगेंगे शिविर, हर जिले मे 2-2 पर्यटन स्थल बनेंगे -- CS शर्मा

Top News

गहलोत पर पायलट का तंज सत्ता के बावजूद गजेंद्र सिंह के सामने चुनाव क्यों हारे ?
कांग्रेस सुप्रीमो सोनिया गांधी के निजी सचिव पर रेप का आरोप, मामला दर्ज 
विश्वसनीयता, सकारात्मक, तथ्यात्मक और जिम्मेदारीपूर्ण पत्रकारिता की जरूरत -  मंत्री जाट, कलेक्टर मोदी, एस पी सिद्धू
सचिन पायलट का मुख्यमंत्री पर पलटवार, पायलट ने दिया मुख्यमंत्री के आरोपों पर बड़ा बयान, मुख्यमंत्री ने पहले भी नकारा निक्कमा बोला,
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल से 3 दिवसीय प्रवास पर रहेंगे जोधपुर
शिक्षा विभाग- राष्ट्रीय शिक्षा नीति 6 हजार शिक्षकों को प्रशिक्षण 23 तक
हॉर्स ट्रेडिंग को लेकर बोले कैबिनेट मंत्री महेश जोशी: 'गजेंद्र सिंह हों या कोई और सरकार गिराने के मंसूबों को कामयाब नहीं होने देंगे'
प्रशिक्षु 79 आईएएस अधिकारियों को फील्ड प्रशिक्षण के लिए जिले आवंटित
अब राजस्थान में मिले यूरेनियम के भंडार,देश में प्रदेश बना शक्तिशाली
राजस्थान में आज से भीलवाड़ा , टोंक सहित कई जिलों मे बारिश का दौर,कहां-कहां जानें