जयपुर फीस बढ़ोतरी का विरोध कांग्रेस के दिमाग की खुजलाहट है-सैनी, भाजपा सरकार ने देश में सबसे पहले फीस एक्ट का गठन किया

जयपुर ।निजी स्कूलों में फीस बढ़ोतरी के विरोध में कांग्रेस की ओर से किए जा रहे प्रदर्शनों पर कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि फीस बढ़ोतरी का विरोध कांग्रेस के दिमाग की खुजलाहट है। गहलोत सरकार ने फीस वृद्धि को नियंत्रित करने के लिए कुछ भी नहीं किया, जबकि भाजपा सरकार ने देश में सबसे पहले फीस एक्ट का गठन किया था। सैनी मंगलवार को भाजपा मुख्यालय में प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि फीस एक्ट कमेटी के तहत 26 हजार निजी स्कूलों में मैनेजमेंट एवं अभिभावकों की फीस एक्ट कमेटी बनाई गई है जो फीस बढ़ोतरी पर निर्णय कर रही है।
एट्रोसिटी एक्ट को लेकर पुलिस अधिकारियों की एडवाइजरी के सवाल पर सैनी ने कहा कि इसको लेकर मुख्यमंत्री भी संवेदनशील है और एससी व एसटी वर्ग के हितों पर कोई कटौती नहीं की जाएगी।

जिग्नेश मेवानी पर सैनी ने कहा कि कुछ लोग प्रदेश की कानून व्यवस्था भंग करना चाहते थे किन्तु राज्य सरकार ने इस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए इसे रोक दिया। गत 2 अप्रैल को बंद के दौरान हुई हिंसा के दर्ज मामले वापस लेने के सवाल पर उनका कहना था कि मुकदमे वापस लेेने की निश्चित प्रक्रिया है तथा उसके तहत ही राजनीतिक मुकदमे वापस लिए जाते हैं। विभागीय उपलब्धियों पर सैनी ने बताया कि इस वर्ष खरीफ  बुवाई की सारी तैयारियां पूरी हो गई है। इस वर्ष1 लाख 59 हजार हैक्टेयर भूमि पर खरीफ  की फसल बुवाई का लक्ष्य है। इसके लिए 8 लाख मेट्रिक टन बीज, 3 लाख मेट्रिक टन डीएपी और 8 लाख मेट्रिक टन यूरिया की व्यवस्था की गई।
खेती में नई तकनीक और उन्नत उपकरणों के उपयोग के लिए आगामी 23-25  मई को जोधपुर के कृषि विश्वविद्यालय में ग्लोबल एग्रीटेक मीट का आयोजन किया जाएगा। इसमें मसाला खेती और मसाला निर्यात को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके अलावा इस वर्ष जयपुर में मेडी ग्लोबल टेक मीट का भी आयोजन किया जाएगा। इसमें कऐसी चीजों की खेती को प्राथमिकता दी जाएगी जो हृदय, लीवर, किडऩी और डायबिटीज से सम्बन्धित बीमारियों को रोकने का काम करेगी।