गर्भवती महिला की मौत, तनावी माहौल, जिला प्रशासन से समझौते के बाद मामला निपटा

Churu News । चूरू जिले के सादुलपुर राजगढ़ तहसील के गांव रामपुरा में गर्भवती महिला की मौत के बाद चल रहा आंदोलन सोमवार को जिला प्रशासन से हुए समझौते के बाद समाप्त कर दिया गया है। हालांकि सोमवार को भी गांव में तनाव का माहौल था तथा पुलिस प्रशासन के प्रति उन्होंने ग्रामीणों में रोष …

गर्भवती महिला की मौत, तनावी माहौल, जिला प्रशासन से समझौते के बाद मामला निपटा Read More »

October 12, 2020 5:51 pm

Churu News । चूरू जिले के सादुलपुर राजगढ़ तहसील के गांव रामपुरा में गर्भवती महिला की मौत के बाद चल रहा आंदोलन सोमवार को जिला प्रशासन से हुए समझौते के बाद समाप्त कर दिया गया है। हालांकि सोमवार को भी गांव में तनाव का माहौल था तथा पुलिस प्रशासन के प्रति उन्होंने ग्रामीणों में रोष नजऱ आ रहा था, बाद में प्रशासन और संघर्ष समिति के प्रतिनिधि मंडल के मध्य हुई वार्ता के बाद मामला निपट गया। 


कलेक्टर प्रदीप के. गवांडे और पुलिस अधीक्षक के साथ राजस्थान विधानसभा में प्रतिपक्ष के उपनेता राजेंद्र सिंह राठौड़, भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व सांसद रामसिंह कस्वां, बसपा नेता एवं सादुलपुर के पूर्व विधायक मनोज न्यांगली, जिला प्रमुख हरलाल सहारण की मौजूदगी में वार्ता हुई करीब घंटे भर चली। वार्ता के बाद मांगों पर जब सहमति बन गई तो उसके बाद राठौड़ सहित अनेक नेताओं ने धरना स्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों को आवश्यक जानकारी दी। हालांकि इस दौरान एक बार माहौल बिगड़ते बिगड़ते बच गया, क्योंकि जिला प्रशासन के प्रतिनिधि के रूप में वहां उपस्थित राजगढ़ के उपखंड अधिकारी पंकज गढ़वाल ने पांच लाख रुपये की प्रतिकर राशि के संबंध में यह कह दिया कि हम भरसक प्रयास करेंगे। इस बात को लेकर ग्रामीण भी विरोध पर उतर आए और राठौड़ भी वापस जाकर मंच पर बैठ गए। यह देख कर चूरू के एएसपी योगेंद्र फौजदार ने बात को संभाला। उन्होंने कहा कि राठौड़ ने जो कहा है, वही समझौता जिला प्रशासन के साथ हुआ है। उसके बाद मामला शांत हो पाया। समझौते के अनुसार मृतका के परिवार को अगले सप्ताह में दो लाख रुपए की मुआवजा राशि का भुगतान जिला प्रशासन कर देगा, जबकि 5 लाख रुपए की पीड़िता प्रतिकर राशि के रूप में अगले महीने में मिल जाएंगे। शेष बची तीन लाख रुपये की राशि में एक एक लाख रुपये राजगढ़ के समाजसेवी राधेश्याम डोकवे वाला तथा पूर्व चेयरमैन जगदीश बैरासरिया द्वारा पीड़ित परिवार को दिया जाएगा और एक लाख रुपये की राशि की व्यवस्था राठौड़ एवं पूर्व सांसद कस्वां द्वारा की जाएगी।

पथराव के मुकदमे में न्यायिक जांच होगीसमझौते में पथराव आदि को लेकर पुलिस द्वारा जो भी मुकदमे दर्ज किए गए हैं उनकी न्यायिक जांच चूरू के एडीएम द्वारा की जाएगी व दर्ज मुकदमों की जांच राजगढ़ वृत्त से बाहर के पुलिस अधिकारी द्वारा की जाएगी। जिस चिकित्सक को द्वारा लापरवाही बरती गई उसे तत्काल एपीओ किए जाने के बाद आवश्यक जांच बीकानेर या जयपुर के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा की जाएगी। उनकी रिपोर्ट के आधार पर चिकित्सक के खिलाफ  कार्यवाही होगी। रामपुरा गांव में 108 एंबुलेंस अब स्थाई रूप से रहेगी।

इसके अलावा पीडि़त परिवार के दोनों सदस्यों को सरकारी योजना के अंतर्गत मकान बनवा कर दिए जाएंगे और मृतका के पति राजकुमार मीणा को उसकी योग्यता के अनुसार मनरेगा अथवा अन्य किसी योजना में संविदाकर्मी के रूप में काम प्रदान किया जाएगा। राठौड़ द्वारा की गई इस प्रकार की घोषणा के बाद मृतका के परिजनों तथा ग्रामीणों ने संतोष जताया तथा मृतका के परिजनों ने आंदोलन समाप्त करने की स्वीकृति देते हुए मृतका के अंतिम संस्कार करने की भी बात कही। इस प्रकार 3 दिन से चल रहे घटनाक्रम का पटाक्षेप हो गया है।

हिन्दुस्थान समाचार

Prev Post

फीस कम करने की मांग को लेकर नर्सिंग छात्र-छात्राओं का प्रदर्शन

Next Post

अब 1500 छात्राओं को मिलेगी देवनारायण छात्रा स्कूटी वितरण योजना में स्कूटी

Related Post

Latest News

गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर

Trending News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know

Top News

प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 
गहलोत कल मिलेंगे सोनिया से,राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए कल नहीं भरे जाऐंगे नामांकन, क्यों
देश को 9 माह बाद मिला नया CDS 
राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know