कोरोना की लहर खतरनाक, वैक्सीन कमजोर साबित,सावधान ,क्या करें और कैसे करें जानें

corona virus

New Dehli। कोरोना वायरस (Corona virus) की वेरिएंट अर्थात इसका रूप इतना खतरनाक है कि अब वैक्सीन (vaccine) भी इसी एजेंट के आगे कमजोर साबित होने लगी है और इस वैक्सीन की कंपटीशन में बदलाव शुरू कर दिया गया है अर्थात इस वैक्सीन को और पावरफुल बनाया जा रहा है अगर आपके शरीर में यह लक्षण दिखे तो बात गंभीर है तुरंत चिकित्सक से मिलें इसके अलावा पॉजिटिव रोगियों की कैसे करें देखभाल और

 

कैसे करें अपना बचाव पढ़ें पूरी खबर और जाने

कोरोना के नए वेरिएंट के लक्षण

कुछ अध्ययनों से पता चला है कि ये वायरस कुछ महत्वपूर्ण अंगों के साथ हमारे इम्यून सिस्टम को भी खराब कर देता है ।।इसलिए माना जा रहा है कि ये अधिक प्रभावशाली तरीकों से हमले कर रहा है।

रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि नए वेरिएंट के कई और लक्षण भी हैं। मसलन बहरापन, मांसपेशियों में दर्द, त्वचा में संक्रमण, पेट खराब, और कंजक्टिवाइटिस यानी आखों में जलन

उजाला सिग्नस ग्रुप ऑफ़ हॉस्पिटल्स के संस्थापक और निदेशक डॉक्टर शुचिन के अनुसार ‘आजकल, हम कोरोना के नए वेरिएंट के चलते कुछ नए लक्षण देख रहे हैं जैसे कि बुखार,

मांसपेशियों में दर्द, सूखी और लगातार खांसी, और स्वाद न लगना और इसके अलाव सिरदर्द, चकत्ते, पेट में गड़बड़ी, हाथ और पैर की उंगलियों के रंग बदलना शामिल है ।

कुछ अध्ययनों से पता चला है कि यूके वेरिएंट या केंट वेरिएंट B.1.1.7 काफी तेज़ी से फैल रहा है।केंट वेरिएंट 70 फीसदी ज्यादा जानलेवा है और इस वेरिएंट के लक्षण तेज़ी से मरीजों में दिखते हैं।।

 

क्या वैक्सीन का होगा असर?

अध्ययनों से पता चला है कि केंट के वेरिएंट पर वैक्सीन का ज्यादा असर नहीं दिख रहा है पिछले दो महीने में आईसीएमआर को कोविड-19 के 192 वेरिएंट मिले हैं । नए वेरिएंट को देखते हुए वैक्सीन के कमपोजिशन में बदलाव किए जा रहे हैं लेकिन 4-5 बदलाव में महीनों का समय लग सकता है ।।

अक्‍सर देखा गया है कि ज्‍यादातर लोग कोरोना संक्रम‍ित मरीजों के संपर्क में आकर ही कोविड-19 पॉजिटिव हो रहे हैं।। इसलिए बहुत जरूरी है कि अगर आपके घर में कोई कोरोना पॉजिट‍िव हो गया है या फ‍िर घर में कोई ऐसे पेशे में है जिसमें ज्‍यादा लोगों के संपर्क में आना पड़ता है तो उन्‍हें ज्‍यादा ऐहतियात बरतने की जरूरत है।हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के प्र‍ेसीडेंट डॉ केके अग्रवाल कुछ टिप्‍स सुझा रहे हैं, आइए जानें उनके बारे में।

 

आप ये 4 स्‍टेप अपना सकते है

 

सबसे पहला जरूरी कदम ये है कि आप अगर घर पर कोई पॉजिट‍िव पेशेंट हो गया है तो उन्‍हें तत्‍काल आइसोलेट करके खुद भी डबल मास्‍क पहनें।

जब भी किसी पॉजिट‍िव या सस्‍पेक्‍टेड मरीज से कॉन्‍टैक्‍ट करें तो हो सके तो घर पर भी फेस शील्‍ड पहनकर रखें, या पब्‍ल‍िक डीलिंग वाले जॉब पर जाएं तो भी फेस शील्‍ड जरूरी होता है ।इसके अलावा सबसे जरूरी है कि रोज दिन में दो बार povidone iodine के साथ गर्म पानी से गरारा करें ।