राजस्थान मे शिक्षक भर्ती में महिलाओं को मिलेगा 50 प्रतिशत आरक्षण

Dr. CHETAN THATHERA
4 Min Read
जयपुर। मुख्यमंत्री  भजनलाल शर्मा के नेतृत्व में राज्य सरकार महिलाओं के सशक्तीकरण एवं उनके सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्ध है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने संकल्प-पत्र में किए गए एक और महत्वपूर्ण वादे को पूरा किया है।  शर्मा ने तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में महिलाओं के लिए आरक्षण की सीमा 30 प्रतिशत से बढ़ाकर 50 प्रतिशत करने के लिए राजस्थान पंचायतीराज अधिनियम में संशोधन के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की है। मुख्यमंत्री के इस संवेदनशील निर्णय से राज्य में महिलाओं को रोजगार के अधिक अवसर मिलेंगे और वे आत्मनिर्भर होकर और सशक्त बन सकेंगी।

अवैध नल कनेक्शनों पर लगातार हो रही है कार्यवाही

टोंक,। जिला कलेक्टर डॉ. सौम्या झा के निर्देशों पर जिले में पेयजल लाईनों में अवैध नल कनेक्शनों को लेकर निरंतर कार्यवाही की जा रही है, ताकि अंतिम छोर पर पीने का पानी पहुंच सके। तहसील नगर फोर्ट क्षेत्र की ग्राम पंचायत कचरावता के गांव बालापुरा में अवैध नल कनेक्शनों के कारण पीने का पानी पर्याप्त मात्रा में सभी घरों में नहीं पहुंच पा रहा था। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग परियोजना खंड टोंक के अधिशाषी अभियंता प्रकाशचंद मीणा ने बताया कि ग्राम बालापुरा में 16 पीएसपी के माध्यम से जलापूर्ति की जा रही है। ग्राम बालापुरा की पुरानी मुख्य पाइप लाइन मुचकुंदपुरा से होकर गुजर रही है जिसमें ग्राम वासियों द्वारा अवैध नल कनेक्शन करने के कारण ग्राम बालापुरा में पेयजल आपूर्ति बाधित हो रही थी। इस पर सहायक अभियंता द्वारा 13 जून को अभियान चलाकर अवैध कनेक्शन हटाए गए। ग्राम बालापुरा की पेयजल सप्लाई आंशिक रूप से सुचारू कर दी गई है। जल जीवन मिशन के तहत मांग के अनुसार स्वीकृत अतिरिक्त मुख्य पाईप लाईन नगरफोर्ट उच्च जलाशय से ग्राम बालापुरा के चैंबर तक बिछा दी गई है। मिलान कार्य पूर्ण होने के बाद प्रेशर से ग्राम बालापुरा में पेयजल आपूर्ति शुरू होगी।
ग्राम रघुनाथपुरा में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा वाल्व बंद कर देने के कारण पेयजल सप्लाई बाधित हो गई थी। शुक्रवार को सहायक अभियंता द्वारा ग्राम रघुनाथपुरा की पेयजल सप्लाई शुरू कर दी गई है। मुख्य पाइप लाईनों के अवैध कनेक्शनों की जांच कर काटने की कार्यवाही की जाएगी। ग्राम सुथड़ा में पेयजल सप्लाई के स्थायी समाधान के लिए जल जीवन मिशन के तहत नवीन स्वीकृत उच्च जलाशय का निर्माण कार्य प्रगतिरत है। वर्तमान में अतिरिक्त वीडीएस पाईप लाईन डालकर 404 घरेलू कनेक्शन कर दिए गए है।
ब्लॉक पीपलू के ग्राम ढूढ़िया में बीसलपुर परियोजना के पीएसपी पॉइंटों में पर्याप्त पानी नहीं आने को लेकर ग्रामीणों ने नाराजगी जाहिर की थी तथा घर-घर नल कनेक्शन की मांग की गई।
मौके पर उपखंड अधिकारी कपिल शर्मा एवं जलदाय विभाग के अधिकारियों ने पहुंचकर ग्रामीणों से समझाइश की। उन्होंने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत घर-घर नल कनेक्शन के कार्य की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति मिल चुकी है। तकनीकी स्वीकृति उच्च स्तर पर प्रक्रियाधीन है। जलदाय विभाग के अधीक्षण अभियंता राजेश गोयल ने बताया कि वर्तमान में ग्राम को बीसलपुर पेयजल परियोजना के सात पीएसपी पॉइंटों के माध्यम से प्रतिदिन दो घंटे पेयजल उपलब्ध कराया जा रहा है। अवैध नल कनेक्शनों के कारण गांव के दो पीएसपी पॉइंटों में पेयजल आपूर्ति बाधित हो रही थी। विभाग द्वारा शुक्रवार को अवैध कनेक्शन काटकर पेयजल आपूर्ति सुचारू की गई। उन्होंने बताया कि ग्राम में 6 हैंडपंप चालू है तथा जनता जल योजना के कुएं से भी पेयजल आपूर्ति की जा रही है।
Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम