टोंक राजस्थान

अच्छी योजनाओं के साथ समाज मे राजनीतिक चेतना भी जागृत करेंगे – महेंद्र गहलोत

टोंक (फ़िरोज़ उस्मानी)। केशकला बोर्ड अध्यक्ष व राज्यमंत्री का दर्जा प्राप्त महेंद्र गहलोत व पीसीसी सदस्य गजेंद्र सांखला कोटा से जयपुर जाते समय टोंक रुके। जहां सेन समाज के जिलाध्यक्ष बृजमोहन सेन व केशव सेन के नेतृत्व में उनका जमकर स्वगात किया। महेंद्र गहलोत को माला व साफा पहनाकर अभिनंदन किया। मौके पर सेन समाज के लोगों ने कई समस्याओं व मांगों को लेकर अवगत कराया। इस मौके पर महेंद्र गहलोत ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि सेन समाज के उत्थान के लिए शिक्षा महत्त्वपूर्ण है।

समाज के लोग उच्च शिक्षा प्राप्त कर ही समाज को सक्षम बना सकते है। महेंद्र गहलोत ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार जताते हुए कहा कि समाज के एक छोटे कार्यकर्ता को मंत्री का दर्जा दिया है, ये बताता है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सभी वर्गों की उन्नति के लिए प्रयासरत है। उन्होंने समाज को एकजुट होकर कांग्रेस पार्टी के साथ चलने का आव्हान किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री दलित पिछड़ो के उत्थान के लिए कार्य कर रहे है। आर्थिक रूप से समाज कैसे मजबूत हो इसके लिए समाज मे चेतना जागृत करना ही मूल उद्देश्य है।

 

समाज के लिए अच्छी योजनाएं है

महेंद्र गहलोत ने कहा कि उनका मुख्य उद्देश्य प्रदेश के सभी जिलों में सेन समाज के छात्रावास खुले। साथ ही केशकला बोर्ड अच्छी योजनाएं बना रहा है, जिसके लिए 9 जिलों में भ्रमण कर 50 से ज़्यादा विधानसभाओं में गया हूँ, सभी से सुझाव लिए जा रहे है, जिसके बाद हुनरमंदों के कल्याण के लिए योजनाएं बनाकर केबिनेट में रखा जाएगा।

चांदना पर बोले

चांदना मामले में बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस एक बड़ा परिवार है, छोटी छोटी बातें होती रहती है, उसे मिलकर सुलझा लिया जाता है। सरकार अच्छा कार्य कर रही है, आमजन प्रदेश सरकार की योजनाओं से प्रभावित है।

इस मौके पर पीसीसी सदस्य गजेंद्र सिंह सांखला भी मौजूद रहे।

Firoz Usmani
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।