बेटी हुई तो डॉक्टर पत्नी को दिया तलाक,लखनऊ के रइसजादे को जेल भेजा

Dr. CHETAN THATHERA
3 Min Read

जयपुर। रामगंज इलाके में एक विवाहिता को महज इस बात पर तलाक दिया गया कि उसने बेटी को जन्म दिया। लखनऊ के रईस परिवार के आरोपी को पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तारी के बाद जयपुर के रामगंज थाना पुलिस उसे गिरफ्तार कर जयपुर ले आई और न्यायालय में पेश किया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

पुलिस के अनुसार पीड़िता पेशे से चिकित्सक है, जिसका निकाह 28 अक्टूबर 2021 को लखनऊ के वफी अजीज सफवी पुत्र हुसैन अजीज सफवी के साथ हुआ था। वफी अजीज सफवी लखनऊ के रसूखदार और रईस खानदान से ताल्लुक रखता है। वह पंजाब नेशनल बैंक हैदराबाद में लॉ ऑफिसर था जो ट्रांसफर के बाद पीएनबी द्वारिका दिल्ली चला गया ।

घटनाक्रम के अनुसार शादी के बाद से ही पीड़िता का पति और ससुराल सहित दादा ससुर हसन अजीत सतवीर साहिबा और ननद नजमा नबील अहमद उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे दहेज के लिए प्रताड़ित करने की जानकारी उसने अपने मां-बाप को जी मगर हर बार लोक लाज के चलते उसे समझा-बुझाकर शांत कर दिया जाता।

दहेज की खातिर देता प्रताड़ना

वफी अजीज सफवी अपने ससुराल वालों से फोर व्हीलर और नकदी दिए जाने का शादी के बाद से ही लगातार दबाव बनाता आ रहा था। हालांकि पीड़िता के पिता का कहना है कि उन्होंने अपनी डॉक्टर बेटी की शादी शाही अंदाज से की थी और दहेज भी अच्छा-खासा दिया था। बावजूद इसके वफी अजीज सफवी आए दिन और नकदी देने व महंगी कार देने की डिमांड करता रहा।

नहीं देने पर डॉक्टर पत्नी को यातनाएं देकर प्रताड़ित करता। सारी हदें उसने तब पार कर दी जब पत्नी ने पुत्री को जन्म दिया, वफी अजीज सफवी पीड़िता को अस्पताल में ही छोड़ भागा और तलाकनामा भेज दिया।

 अस्पताल में छोड़कर भागा

पीड़िता ने 5 अगस्त 2022 को अस्पताल में बेटी को जन्म दिया। उसकी देखभाल के लिए छोटी बहन को मां- बाप ने भेजा था। अस्पताल में बेटी पैदा हुई तो आरोपी पति उसे छोड़कर फरार हो गया और तलाक दे दिया।

पीड़िता के परिजनों ने वफी अजीज सफवी सहित उसके परिवार को काफी समझाया, मगर वे नहीं माने तो थाने की शरण ली।

पीड़िता की छोटी बहन ने परिजनों को बताया कि दहेज के खातिर उसे भूखे-प्यासे रखकर मारपीट कर यातनाएं दी जाती थीं। हद उस वक्त हुई जब बेटी के जन्म का पता चलते ही पीड़िता को अस्पताल में ही छोड़ भागा। भूखी-प्यासी पीड़िता की सुध लखनऊ जाकर पिता ने ली। इस बीच वफी अजीज सफवी ने अपनी डॉक्टर को पत्नी को तलाक दे डाली।

Share This Article
Follow:
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम