जयपुर राजस्थान

बसपा से कांग्रेस में आए वाजिब अली व संदीप यादव को राजनीतिक नियुक्तियों में किया एडजस्ट

 जयपुर। लंबे समय से सरकार से नाराज चल रहे बीएसपी से कांग्रेस में आए विधायक वाजिब अली और संदीप यादव को भी आखिरकार राजनीतिक नियुक्तियों में एडजस्ट किया गया है। विधायक वाजिब अली को राज्य खाद्य आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है तो वही संदीप यादव को भिवाड़ी शहरी आधारभूत विकास बोर्ड का चेयरमैन बनाया गया है। दोनों की नियुक्ति के आदेश देर रात सरकार की ओर से जारी किए गए।

हालांकि भले ही दोनों विधायकों को राजनीतिक नियुक्तियां दे का चेयरमैन बनाया गया हो लेकिन ऑफिस ऑफ प्रॉफिट के तहत उन्हें न तो या राज्य मंत्री का दर्जा दिया जाएगा और न ही किसी प्रकार की पर वेतन भत्ते या आर्थिक लाभ दिया जाएगा।

माकन- गहलोत की मंत्रणा के बाद जारी हुए आदेश 

इधर लंबे समय के बाद जयपुर दौरे पर आए प्रदेश प्रभारी अजय माकन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा की सोमवार रात मुख्यमंत्री आवास पर बैठक हुई थी जिसमें दोनों विधायकों की नाराजगी को लेकर चर्चा हुई थी और उसी के बाद दोनों विधायकों को राजनीतिक नियुक्ति देने के आदेश जारी हुए। बताया जाता है कि अजय माकन और गहलोत के बीच देर रात तक चली बैठक में राजनीतिक नियुक्तियों की तीसरी सूची पर मंथन हुआ है इसके अलावा संगठनात्मक गतिविधियों पर भी चर्चा हुई है।

अब तक 18 विधायकों को राजनीतिक नियुक्तियां

 वही बड़ी बात यह भी है कि अब तक गहलोत सरकार की ओर से 18 विधायकों को राजनीतिक नियुक्तियों में एडजस्ट किया गया है, विधायकों को बोर्ड -निगम और आयोग का चेयरमैन और उपाध्यक्ष बनाकर सरकार में भागीदारी दी गई है।

लंबे समय से चल रहे थे नाराज 

विधायक वाजिब अली और संदीप यादव लंबे समय से पार्टी से नाराज चल रहे थे। विधायक वाजिब अली तो कई बार सरकार पर निशाना भी साथ चुके हैं। साथ ही सरकार पर अल्पसंख्यक वर्ग की उपेक्षा करने का आरोप भी लगा चुके हैं यही नहीं वाजिब अली और संदीप यादव को राजनीतिक नियुक्तियों में एडजस्ट नहीं किए जाने के कारण बसपा से कांग्रेस में आए विधायक और गहलोत सरकार में मंत्री राजेंद्र गुढ़ा भी सवाल उठा चुके हैं। पिछली दो राजनीतिक नियुक्तियों की सूची में वाजिब अली और संदीप यादव का नाम नहीं आने से दोनों ही विधायक नाराज चल रहे थे।

बसपा से कांग्रेस में आए सभी 6 विधायकों को मिली भागीदारी

वहीं बसपा से कांग्रेस में आए सभी 6 विधायकों को अब सरकार में भागीदारी मिल चुकी है, विधायक राजेंद्र गुढ़ा को गहलोत सरकार में राज्य मंत्री बनाया हुआ है तो जोगिंदर अवाना को देवनारायण बोर्ड का अध्यक्ष बनाया हुआ है। लाखन मीणा और दीपचंद खेरिया को भी राजनीतिक नियुक्ति दी हुई है और अब वाजिब अली और संदीप यादव को भी राजनीतिक व्यक्ति देकर सरकार में भागीदारी दी गई है।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/