जोधपुर राजस्थान

दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री जी सीएम गहलोत की वार्ता, पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द पाएंगे नियंत्रण

जोधपुर/जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज नई दिल्ली में केंद्रीय पशुपालन मंत्री से मुलाकात की और पशुओं में फैल रहे लंपी रोग को लेकर चर्चा की । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि केंद्रीय मंत्री ने लंपी रोग पर जल्द नियंत्रण पानी का आश्वासन दिया है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार पशुओं में फैल रहे लंपी स्किन रोग पर जल्द नियंत्रण पाने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि नई दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में केन्द्रीय पशुपालन मंत्री पुरूषोत्तम रूपाला से मुलाकात कर पशुओं में फैल रहे लंपी चर्म रोग पर चर्चा की। रूपाला ने आश्वासन दिया कि केन्द्र सरकार लंपी से निपटने में राज्य सरकार का पूरा सहयोग करेगी।    

 गहलोत गुरुवार शाम विशेष विमान से जोधपुर एयरपोर्ट पहुंचे जहां उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि रूपाला ने कुछ दिन पूर्व जयपुर में लंपी चर्म रोग को लेकर एक बैठक भी की थी। प्रदेश के कई जिलों के पशुओं में लम्पी स्किन रोग का संक्रमण तेजी से फैला है, लेकिन राज्य सरकार दवाईयों, चिकित्सकों, एंबुलेंस सहित अन्य आवश्यकताओं के लिए धन की कमी नहीं आने दे रही है। मुख्य सचिव परिस्थितियों की लगातार मॉनिटरिंग कर रही है व सभी जिला कलक्टर्स के साथ लगातार बैठकों का दौर भी जारी है।

गौवंश का संरक्षण और संवर्धन राज्य सरकार की प्राथमिकता है। सरकार द्वारा गौशालाओं के लिए अनुदान की अवधि को 6 माह से बढ़ाकर 9 माह कर दिया गया है। गोपालन विभाग बनाकर गौवंश संवर्धन के लिए लगातार कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग से हम इस संक्रमण से जल्द निजात पा सकेंगे। 

मेहरानगढ़ हादसे के पीड़ित परिवारों के सर्वे हेतु कलक्टर को निर्देश

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेहरानगढ़ दुखांतिका में मारे गए 216 लोगों के परिजनों की स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए जोधपुर जिला कलक्टर को निर्देश दे दिए हैं। हाल ही में सीकर के खाटूश्याम जी मंदिर हादसे को लेकर हुई बैठक में इसके लिए मुख्य सचिव को एक समिति गठित करने के निर्देश दिए थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान के धार्मिक स्थल पूरे देश में आस्था के केंद्र है। यहां के धार्मिक स्थलों में सालाना उत्सव, मेलों के अलावा भी हर माह लाखों की संख्या में राजस्थान सहित विभिन्न राज्यों से श्रद्धालु दर्शन करने आते है।

गहलोत ने कहा कि ऐसे धार्मिक क्षेत्रों व मेलों में सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ ही धार्मिक ट्रस्ट के पदाधिकारियों और धर्मगुरूओं के साथ बैठकें आयोजित कर सभी व्यवस्थाओं पर चर्चा भी की जाएगी, ताकि किसी भी तरह की दुर्घटना की आशंका को टाला जा सके।

बड़ी बहन से बंधवायी राखी, लिया आशीर्वाद

गहलोत अपनी बड़ी बहन विमला देवी के लालसागर स्थित आवास पर पहुंचे तथा राखी बंधवायी और पैर छूकर आशीर्वाद लिया। इस दौरान उनके भांजे जसवन्तसिंह कच्छवाहा सहित परिवार के अन्य सदस्य भी उपस्थित रहे। मुख्यमंत्री ने पूरे परिवार के साथ फोटो भी खिंचवाई।

एयरपोर्ट पर छाया रक्षाबंधन का उल्लास

 गहलोत के जोधपुर एयरपोर्ट आगमन पर रक्षाबंधन का उल्लास पसर गया। उन्होंने सभी उपस्थित लोगों को रक्षाबंधन की बधाई दी। वहां मौजूद कुछ महिलाओं ने मुख्यमंत्री की कलाई पर राखियां बांधी और खुशी जाहिर की। गहलोत ने राखी बंधवाते हुए सभी बहनों को आरोग्य तथा सुख-समृद्धि के लिए स्नेह भरा आशीर्वाद दिया और रक्षाबंधन की शुभकामनाएं दीं।

 

साभार सूजस

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/