उदयपुर

उदयपुर कलेक्टर ने पहला टीका लगवाकर किया दूसरी खुराक के अभियान का आगाज

उदयपुर। राज्य में व्यापक स्तर पर चल रहे कोविड टीकाकरण कार्यक्रम के तहत गुरुवार सुबह उदयपुर जिले मे राजस्व विभाग के लाभार्थियों को 28 दिन पूरे हो जाने के बाद टीके की दूसरी खुराक लगना शुरू हो गई। इसकी शुरुआत गुरुवार सुबह रवींद्रनाथ टैगोर मेडिकल कॉलेज में उदयपुर जिला कलेक्टर चेतन देवड़ा ने पहला टीका लगवाकर की। इसके बाद अतिरिक्त जिला कलेक्टर (प्रशासन) ओपी बुनकर, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर) अशोक कुमार ने टीके की दूसरी खुराक लगवा कर अभियान को आगे बढ़ाया।
कार्यक्रम के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. दिनेश खराड़ी, आरएनटी प्राचार्य डॉ. लाखन पोसवाल, एमबी अस्पताल अधीक्षक डॉ. आरएल सुमन, डब्ल्यूएचओ से डॉ. अक्षय व्यास सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे। टीकाकरण पश्चात जिला कलेक्टर ने कहा कि कोरोना से जंग जीतने में यह टीका रामबाण साबित हो रहा है। कोरोना पर हमेशा के लिए विजय पाने के लिए दूसरी डोज अवश्य लगवानी चाहिए।
उन्होंने तीसरे चरण के अंतर्गत आने वाले 60 वर्ष एवं उससे अधिक उम्र के लाभार्थी एवं 45 से 59 वर्ष के कोमोरबीडीटी के अंतर्गत आने वाले लाभार्थियों से भी अपील करते हुए कहा कि भारत में बनी यह वेक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है, जिन भी लोगों को वेक्सीन की पहली और दूसरी खुराक लगी है उन्हें कोई भी दिक्कत नहीं हुई है और वे पूरी तरह स्वस्थ हैं। इससे साफ है कि यह वेक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। सभी लोग को पूरे उत्साह एवं निर्भीकता के साथ कार्यक्रम अनुसार टीका लगवाना चाहिए। यह समाज एवं परिवार की सुरक्षा के लिए बहुत जरूरी है।
ज्ञात हो कि तीसरे चरण की शुरुआत में भी जिला कलेक्टर महोदय ने सभी प्रधान एवं सरपंचों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद कर उनके क्षेत्र के अंतर्गत उचित श्रेणी में आने वाले लोगों का अधिक से अधिक टीकाकरण करवाने के लिए प्रेरित किया था, जिसे सभी जनप्रतिनिधियों ने प्राथमिकता से पूर्ण करने के लिए प्रतिबद्धता जताई थी।
liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.