सीसीटीवी को चुनौती देते चोर, एक्मे के सामने से फिर पार हो गई बाइक

उदयपुर। उदयपुर में इन दिनों बाइक चोरों ने सीसीटीवी को भी चुनौती दे रखी है। सीसीटीवी कैमरे लगे होने के बावजूद उसके सामने से बेखौफ बाइक चुरा रहे हैं और पुलिस चेहरे सामने आ जाने के बावजूद उन्हें ढूंढ़ पाने में अब तक सफल नहीं हो पा रही है।

मामला उदयपुर के सविना स्थित सब्जी मंडी क्षेत्र के एक्मे कम्पनी के कार्यालय का है। यहां कुछ दिन पहले एक कर्मचारी की बाइक चोरी हुई थी। यह वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई और समाचारों व सोशल मीडिया के माध्यम से यह फुटेज वायरल भी हो गया। चोरों को भी कहीं न कहीं पता जरूर चला होगा कि यहां सीसीटीवी लगे हैं। लेकिन, उनकी हिमाकत देखिये, सोमवार को फिर से एक्मे कार्यालय से एक और कार्मिक की बाइक चोरी हो गई और यह वारदात भी सीसीटीवी में कैद हो गई। इसमें वारदात करने वाले का चेहरा भी नजर आ रहा है।
हिरण मगरी थानाक्षेत्र की इन दोनों घटनाओं में वारदात का तरीका लगभग समान होने से यह माना जा रहा है कि उदयपुर में कोई बाइक गिरोह काम कर रहा है जो न केवल सुनसान स्थान, बल्कि भीड़भाड़ वाले पॉश इलाकों और ऑफिस के बाहर से भी बेखौफ बाइक उड़ा रहा है।

लोगों का कहना है कि बाइक चोरी की घटनाओं को लेकर पुलिस गंभीरता नहीं दिखा रही है। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध कराने के बाद भी पुलिस बाइक चोरी की घटनाओं का खुलासा और चोरों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी है। पुलिस की इस निष्क्रियता के कारण ही चोरों का मनोबल बढ़ा हुआ है। पुलिस की निष्क्रियता का खमियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है। बाइक चोरी की बढ़ती घटनाओं को लेकर लोग चिंता में हैं। पहले ही पेट्रोल के भाव उन्हें गाड़ी कम चलाने पर मजबूर कर रहे हैं, ऊपर से बाइक ही चोरी हो जाए तो कंगाली मंे आटा गीला जैसी हालत होगी ही। यदि कार्यालय के बाहर से ही गाड़ियां चोरी होने लगेंगी तो गाड़ी रखने का सुरक्षित स्थान कौन सा है। आपको बता दें कि उदयपुर के सबसे बड़े महाराणा भूपाल चिकित्सालय में पार्किंग स्थलों से चोरी हुई गाड़ियों का भी लम्बे समय से पता नहीं चल सका है।