हिन्दू नाम से महिला को फंसा बनाए सबंधं, निकला हनीफ बेटी की हत्या की धमकी दे जबरन धर्म परिवर्तन का प्रयास

 Udaipur News। आजकल सोशल मीडिया पर हिन्दू युवतियो और महिलाओ को फंसाने की घटना घटित हो रही है ऐसी ही एक घटना जिले की एक शादीशुदा महिला के साथ हुई । महिला को बाडमेर से एक हिन्दू नाम बताकर फोन किया और फिर धीरे-धीरे दोस्ती हुई और फिर प्यार मे बदल गई है। महिला से …

हिन्दू नाम से महिला को फंसा बनाए सबंधं, निकला हनीफ बेटी की हत्या की धमकी दे जबरन धर्म परिवर्तन का प्रयास Read More »

June 9, 2020 5:52 pm

 Udaipur News। आजकल सोशल मीडिया पर हिन्दू युवतियो और महिलाओ को फंसाने की घटना घटित हो रही है ऐसी ही एक घटना जिले की एक शादीशुदा महिला के साथ हुई । महिला को बाडमेर से एक हिन्दू नाम बताकर फोन किया और फिर धीरे-धीरे दोस्ती हुई और फिर प्यार मे बदल गई है।

महिला से शारीरिक सबंधं बना लिए जब उस युवक के वास्तविक नाम का खुलासा हुआ तो महिला के पैरो तले जमीन खिसक गई लेकिन तब तक वह फंस गई युवक ने उसकी बच्ची की हत्या की धमकी दे उसे धर्म परिवर्तन करने पर जोर दिया इसमे युवक के परिजनो ने भी युवक का सहयोग किया । किसी तरह उनके चंगुल से निकली उस महिला ने उदयपुर अपने गांव पहुंच गीगला थाने मे इस आशय की रिपोर्ट दर्ज कराई ।

उदयपुर के गींगला थाना प्रभारी रमेश बोरीवाल ने यह जानकारी देते हुए बताया की पीडिता ने दर्ज कराई रिपोर्ट मे बताया की सलूम्बर तहसील की रहने वाली है और उसके तीन साल की बेटी है। उसका पति अहमदाबाद में हलवाई का कार्य करता है।

फरवरी 2020 में एक नंबर से उसे फोन आया जिसने नाम वीर सिंह निवासी बाड़मेर बताया। बातचीत में वह उसे बहलाता-फुसलाता रहा और धीरे-धीरे दोनो मे दोस्ती फिर प्यार की बातें करता रहा। फिर उसने शादी का प्रस्ताव रखा और उसको सलूम्बर बस स्टैंड बुलाया। वहां से उसे और उसकी बेटी को वह बाड़मेर के भटाला गांव ले गया। वहां पहुंचने पर विवाहिता को पता चला कि उसका असली नाम हनीफ खान पुत्र बरकत खान है।

उन लोगों ने उस विवाहिता को एक कमरे मे रखा और हनीफ ने उसके साथ शारीरिक सम्बंध भी बनाए। इसके बाद हनीफ के घर वालों ने विवाहिता की बेटी को कब्जे में लेकर बेटी को मारने की धमकी देते हुए उसे धर्म परिवर्तन का दबाव बनाया। विवाहिता ने एफआईआर में बताया कि इसके बाद हनीफ और उसकी बहन विवाहिता को कहीं ले गए और खाली कागजों पर हस्ताक्षर करवा लिए।

इसके बाद 2 महीने तक विवाहिता वहीं फंसी रही। विवाहिता ने हनीफ सहित उसके परिवार के सदस्यों पर यह भी आरोप लगाया कि उसे और उसकी बेटी को वे शारीरिक प्रताडऩा देते रहे। रोज बेटी को मारने की धमकी देते थे। हनीफ के पिता सहित अन्य पुरुषों ने उसके साथ सम्बंध बनाने का प्रयास किया।

लॉक डाउन खत्म होने के बाद विवाहिता ने उसकी मां को फ़ोन पर आपबीती बताई तब मां उसे लेने आई और मां के साथ वह पहुंची। पुलिस थानाधिकारी रमेश बोरीवाल ने बताया कि मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

Prev Post

भीलवाड़ा शहर मे आई एक युवती पॉजिटिव

Next Post

केंद्र की कल्यणकारी योजना का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं- जितेंद्र गोठवाल

Related Post

Latest News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन..