टोंक पीजी कॉलेज बना राजनीति का अखाड़ा, भाजपा व कांग्रेस के बीच फंसा छात्रसंघ कार्यालय का उद्घाटन

Tonk News (फिरोज़ उस्मानी)- छात्रसघ कार्यालय उद्घाटन को लेकर छात्र व कॉलेज प्रशासन के बीच उपजे विवाद से पीजी कॉलेज टोंक (Tonk PG College ) राजनिती का अखाड़ा बनता नजर आ रहा है। छात्रसंघ पदाधिकारियों ने कॉलेज गेट पर ताला लगाकर प्रदर्शन किया। दोनों पक्षों के बीच विवाद इतना बड़ा कि पुलिस को हस्तक्षेप करना पड़ा। छात्र भाजपा नेता व कॉलेज प्रशासन कांग्रेस नेताओं से छात्रसघ कार्यालय का उद्घाटन कराने पर उतारू है।

कोतवाली थाना पुलिस ने छात्रसंघ अध्यक्ष दारासिंह फांगड़ा को ले गए।
टोंक पीजी कॉलेज में छात्रसघं कार्यालय का उद्घाटन कार्यक्रम होना है। जिसके उद्घाटन के लिए कॉलेज प्रशासन ढील कर रहा है। कई बार छात्र संघ पदाधिकारियों ने पत्र दिए। बावजूद इसके प्रशासन उनकी मांग पर ध्यान नही दे रहा। छात्रसंघ अध्यक्ष का आरोप है कि कॉलेज प्रशासन वर्तमान काग्रेंस सरकार नेताओं को बुलाकर उद्घाटन कराने पर उतारू है।

वहीं दूसरी और छात्रसंघ अध्यक्ष दारा सिंह का कहना है कि कॉलेज प्रशासन उद्घाटन के लिए पत्र जारी नही कर रही है। हम सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया से कार्यालय का उद्घाटन कराना चाहते है। जबकि कॉलेज प्रशासन इसमें आनाकानी कर रहा है। छात्रसंघ ने आरोप लगाया कि प्रिसिंपल कांग्रेस नेताओं से उद्घाटन कराने पर उतारू है। हम ऐसा नही होने देेंगें।

वहीं दूसरी और कोतवाली थाना प्रभारी विजय शंकर शर्मा का कहना है कि दोनों पक्षों को समझाईश की जा रही है। सूचना पाकर हमने कॉलेज का गेट खुलवा दिया है। कॉलेज प्रशासन की और से कोई भी रिपोर्ट नही दी गई है।

Previous articleगांव की सरकार बनाने को तैयार प्रधान-सीआर-डीआर, पंचायतीराज चुनाव की लाटरी निकली
Next articleदेवली : शिविर में सीखेंगे नई जानकारियां
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।