बनास की बजरी को लेकर फिर बवाल,बजरी लीजधारकों की गुंडागर्दी, एक युवक पर किया हमला, हमले में युवक गंभीर रूप से घायल

Ruckus again regarding gravel of Banas, hooliganism of gravel lease holders

टोंक (फ़िरोज़ उस्मानी)।बजरी लीज धारकों के कर्मचारियों ने गुंडागर्दी करते हुए हमला कर दिया। हमले में बहीर क्षेत्र निवासी शमशेर नामक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे सआदत अस्प्ताल लाया गया है। जिसको लेकर स्थानीय मज़दूरों में रोष व्याप्त है।

मज़दूरों ने बताया कि बजरी लीज धारकों के गुंडे आए दिन गुंडागर्दी करते है, जब वो बजरी भरने जाते है तो उन्हें बजरी नही भरने दी जाती है, वो रवन्ना कटवाने के लिए भी तैयार है, लेकिन लीजधारकों के कर्मचारी दादागिरी करते है, स्थानीय मज़दूरों को बजरी निकालने नही दी जा रही, सारी बजरी बाहर भेजी जा रही है। 

आए दिन हो रहे है विवाद

बजरी को लेकर बजरी लीजधारकों ने बनास में गुंडागर्दी मचा रखी है,, बजरी लीज धारक जहां की लीज है वहां से हटकर भी प्रतिबंधित क्षेत्रों से बजरी नाके लगा कर बजरी उठा रहे है, जिसका विरोध ग्रामीण करते है, जिसके चलते आए दिन ग्रामीणों व लीजधारकों में तनाव की स्थिति उत्पन्न होती है। हाल ही में मोलाईपुरा व वजीरपुरा में भी ग्रामीण व बजरी लीज धारक आमने सामने ही गए थे।

 लीजधारकों को खुली छूट

वही दूसरी और लीजधारकों को जिला प्रशासन की और से खुली छूट मिली है। शिकायत करने के बाद भी कई कार्रवाई अमल में नही लाई जा रही है। ग्रामीणों का आरोप है कि खनिज व पुलिस विभाग की मिलीभगत से बजरी का अवैध खनन चल रहा है।

 पूर्व में भी हुआ है खूनी संघर्ष

आए दिन विवाद कभी भी खूनी संघर्ष में तब्दील हो सकता है, पूर्व में भी बजरी को लेकर कई बार तनाव की स्थिति देखी गई है,पूर्व में बजरी विवाद को लेकर एक जनें की जान भी जा चुकी है।