टोंक में संयुक्त श्रमिक संंगठन ने श्रमिक समस्याओं को लेकर दिया ज्ञापन

Tonk News । संयुक्त श्रमिक संंगठन टोंक ने श्रमिकों व मजदूरों की कोरोना महामारी में समस्याओं को लेकर 12 सूत्रीय मांगों को ज्ञापन राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को दिया। सीटू जिलाध्यक्ष अख्तर जंग, कल्याण समिति रोडवेज से रशीद मोहम्मद, रोड़वेज फैडरेशन अध्यक्ष अशफाक मोहम्मद, यूथ इंटक जिलाध्यक्ष मिर्जा उमर खान, इंटक जिलाध्यक्ष उम्मेेद गोमे, …

टोंक में संयुक्त श्रमिक संंगठन ने श्रमिक समस्याओं को लेकर दिया ज्ञापन Read More »

July 4, 2020 12:06 pm

Tonk News । संयुक्त श्रमिक संंगठन टोंक ने श्रमिकों व मजदूरों की कोरोना महामारी में समस्याओं को लेकर 12 सूत्रीय मांगों को ज्ञापन राष्ट्रपति के नाम जिला कलेक्टर को दिया।

सीटू जिलाध्यक्ष अख्तर जंग, कल्याण समिति रोडवेज से रशीद मोहम्मद, रोड़वेज फैडरेशन अध्यक्ष अशफाक मोहम्मद, यूथ इंटक जिलाध्यक्ष मिर्जा उमर खान, इंटक जिलाध्यक्ष उम्मेेद गोमे, महामंत्री अब्दुल लतीफ आदि ने दिए ज्ञापन में बताया कि केन्द्र सरकार ने अपने 100 दिन के शासन काल में ही 44 या कानूनो को देश के नैममिक औधोगिक घरानो, पूजीपति मालिको के पक्ष में बदलने का काम शुरू किया था, वैजकोड बिल पारित करके मजदूर वर्ग पर बड़ा हमला बोला था।

केंद्र सरकार ने पूंजीपतियों को शोषण की छूट देने और मुनाफे की लूट को बढाने के लिये पुरे देश में श्रम कानूनों के निरीक्षण पर पूरी तरह से अंकुश लगा दिया है और संसद में पारित ई.एस.आई व पी. एफ, जैसे श्रमिको के सामाजिक सुरक्षा संस्थानो को में कमजोर करना चाहती है।

केन्द्र सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के चलते देश में विकास दर गिरती जा रही है और बेरोजगारी एंव मंहगाई तेजी से बढ़ रही है, जिसका विपरीत असर मजदूर किसान और आम गरीब मेहनतकश जनता पर पड़ रहा है। इन हालातो में कोरोना महामारी व अचानक चार घंटे के नोटिस पर किए गए लॉकडाउन ने मजदूरो को भूखों मरने पर मजबूर कर दिया। केन्द्र व राज्य सरकार ने घोषणा तो यह कि थी किसी मजदूर को नौकरी से नही निकाला जाएगा।

लॉकडाउन में पूरा वेतन मिलेगा और किराये पर रहने वाले मजदूरो से किराया नही लिया जाएगा। लेकिन इन घोषणाओं को अधिकांश पूंजीपति मालिकों ने नही माना और 17 मई 2020 को तो केन्द्र सरकार ने अपनी इस घोषणा को वापस ले लिया।

Prev Post

मारोठ में हत्या प्रकरण में प्रदर्शनकारियों पर दर्ज मुकदमा वापिस लेने की मांग, भीम सेना ने दिया मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन

Next Post

टोंक जिले कला शिक्षक अभ्यर्थी उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट से मिले

Related Post

Latest News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...

Trending News

राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
प्रिंसिपल डाॅ. खटीक पुनः बने जिलाध्यक्ष 

Top News

कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष खड़गे या सिंह,तस्वीर 8 को होगी साफ,G-23 नेता मिले गहलोत से, रौचक होगा चुनाव 
राजस्थान में आलाकमान की धमकी बेअसर, गहलोत गुट के नेता ने फिर..
गहलोत को CM हटाते ही राजस्थान में कांग्रेस खंड-खंड बिखर ...
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
पुलिस पर प्रताड़ना का आरोप, परिवादी को ही कर रही है परेशान 
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान
टोंक के बनेठा थाने का एसआई 10 हज़ार की रिश्वत लेते गिरफ्तार, एक प्रकरण में कार्रवाई नही करने की एवज में मांग रहा था घूस
REET - 2022 का परीक्षा परिणाम घोषित 
राजस्थान में रहेगा गहलोत का ही राज, सचिन..