समाजसेवी टोंक के मशहूर शख्स कमलेश सिंगोदिया
टोंक

टोंक के इस शख्स ने गौ सेवा के लिए 11 बीघा जमीन कर दी न्यौछावर

Tonk News। समाजसेवा के लिए यूं तो जिले में कई लोग है जो तरह-तरह से समाज सेवा कर रहे हैं। कुछ लोग तो दान कर उसका प्रदर्शन करने से भी नहीं चूकते हैं, लेकिन टोंक में कुछ युवा और एक शख्स ऐसा भी है जो सेवा के बाद उसको दर्शाता नहीं है। बल्कि इन दिनों तो वो शख्स और युवा इस लिए काफी चर्चा में है कि उन्होंने इंसानों के साथ घायल व बीमार गायों की सेवा के लिए दिनरात एक कर दिया है। वे मदद के लिए चंदा नहीं करते बल्कि अपनी जेब से राशि खर्च करते हैं। युवाओं के इसी जज्बे को देखकर उक्त समाजसेवी ने अपीन जमीन युवाओं को सुपुर्द कर दी। ताकि वे वहां गौशाला खोलकर गायों की सेवा कर सके।

यह समाजसेवी टोंक के मशहूर शख्स कमलेश सिंगोदिया है। ये राजनेता के साथ माली समाज के कदावर भी है। यूं तो कमलेश सिंगोदिया की समाज सेवा की लम्बी फेहरिश्त है, लेकिन हाल ही में युवाओं की ओर से उठाए गए गायों की मदद के बीड़ा में उन्होंने साथ देने का तय किया है। कमलेश सिंगोदिया ने गोशाला के लिए 11 बीघा भूमि दान की है। राष्ट्रीय कामधेनू गोशाला का उद्घाटन रविवार को समारोह पूर्वक गोलडूंगरी सरवराबाद में किया गया। गौशाला के लिए 11 बीघा भूमि राष्ट्रीय रक्षा संगठन के शहर अध्यक्ष कमलेश सिंगोदिया ने दान की।

संगठन के जिलाध्यक्ष महंत सुरेश दुबे ने इस अवसर पर शुभारंभ करते हुए गऊमाता को राष्ट्रीय पशु घोषित करने पर विचार व्यक्त करते हुए गाय शब्द को स्पष्ट किया एवं राष्ट्र हित में इसे सनातन संस्कृति का सर्वोपरि कार्य बताया। इस अवसर पर संगठक के संरक्षक पदमचंद जैन, महिला संगठन जिलाध्यक्ष मंजूलता शर्मा, सुमन शर्मा, मोनू शर्मा, आशा कुर्मी, शिव प्रताप पाटीदार, चन्द्रप्रकाश कुर्मी, बालकुमंूद कुर्मी, कैलाश शर्मा, अनिल शर्मा, ओमप्रकाश शर्मा, मनमोहन शर्मा, गौरव सोनी, मोहन गुप्ता, रामकिशोर शर्मा, शैतान यादव, गोरव कुमावत, अरविंद बंसल, मुकेश सैनी, लक्ष्मण सैनी सहित संगठन सभी सदस्य व गोशा के समस्त कर्मठ कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

मदद में नहीं पीछे

कमलेश सिंगोदिया जरूरतमंद लोगों की मदद में पीछे नहीं रहते हैं। सामूहिक विवाह सम्मेलन में वे निर्धन परिवार की बालिका का विवाह से लेकर उनके परिवार का पोषण तक का कई बार बीड़ा उठा चुके हैं। एक बार तो उन्होंने भोजन शाला तक चलाई है। वहीं बाल सम्पे्रक्षण गृह में आए निर्धन बालक की तो पढ़ाई समेत सभी का खर्च उठाया है।

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम