टोंक

टोंक ज़िले के भाणोली का लाल दिग्विजय सिंह चौधरी सेना में बना अधिकारी, क्षेत्र में खुशी की लहर

Tonk News/दूनी (हरि शंकर माली)। दूनी तहसील की ग्राम पंचायत बडौली के ग्राम भाणोली में किसान परिवार का बेटा सेना में लेफ्टिनेंट बनकर किया किर्तिमान स्थापित ग्रामीण क्षेत्रो में आज भी शिक्षा की दृष्टि से नोजवान होनहार युवा पिछे नही है।

इसी कि मिशाल बनकर दिग्विजय सिंह ने अपने गाँव परिवार ही नही जिले की पहचान बनाई है । कोरोना के बीच टोंक जिले के लिये खुशी की खबर बनकर आई है । जो यहाँ का होनहार बेटा भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बन गया है । ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी चेन्नई की पासिंग ऑउट परेड में इन्हे बैज लगाये गये । खुशी ओर भी भढ गई जब दिग्विजय सिंह ने अपनी इच्छानुसार अपने पिताजी किशन लाल चौधरी जो भारतीय सेना के रिटायर्ड अधिकारी के सितारें अपने कंधों पर लगायें और परिवार की दूसरी पीढ़ी की भारतीय सेना अधिकारी के रूप में शुरुआत की ।

मजदूर संघ टोंक के जिलाध्यक्ष राजाराम लालावत ने बताया की दिग्विजय सिंह दूनी तहसील की बड़ौली पंचायत के छोटे से गाँव भाणोली का है जो अपने दादाजी पुर्व सरपंच चौधरी रामलाल पटेल का सपना सच कर दिखाया है । जिस पर चौधरी रामलाल पटेल ने कहा की मेरे पोत्र ने मुझे ही नही गाँव जिले का भी नाम गौरवान्वित किया है जो गाँव के नवयुको के लिये सदा के लिये प्रेरणा के स्रोत है । जिससे गाँव पंचायत क्षेत्र में खुशी की लहर छा गई है जिससे सभी ने दिग्विजय सिंह के साथ साथ परिवार को बधाई दी है ।

दिग्विजय सिंह की माता श्रीमती यशोदा देवी , जुड़वा बहन प्रीति चौधरी , बडे भाई देवेन्द्र सिंह चौधरी ( असिस्टेंट कमिश्नर ) भाभी मोनिका जाखड़ उपखंड अधिकारी ने उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन पर बधाई दी है ।

उनके चाचा व जाट समाज के समाज सेवी प्रधानाचार्य कुम्भा राम चौधरी ने जानकारी दी की दिग्विजय सिंह ने एक वर्ष के प्रशिक्षण के दौरान भी मुक्केबाजी व घुड़सवारी में भी कीर्तिमान स्थापित किये है ।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.