To avoid cyber thugs, common people should be safe every moment, DSP Shakeel Ahmed Khan appealed to the general public to avoid cyber thugs!
टोंक राजस्थान

साइबर ठगों से आमजन हर पल सजगता से रहे सुरक्षित, साईबर ठगी से बचने के लिये आमजनों से की अपील डीएसपी शकील अहमद खान ने अपील!

चौरु/उनियारा। अशोक कुमार सैनी ।उनियारा व्रत क्षेत्र में पुलिस द्वारा साइबर अपराध को रोकने,उससे बचाव के लिए स्कूल, कालेजों के छात्र-छात्राओं एवं आमजन नागरिकों को जागरूक रहने के लिए उनियारा पुलिस उपाधीक्षक शकील अहमद खान ने विशेष अपील की है!इससे होने वाले अपराध,आमजन तथा आम नागरिक पर होने वाले अपराध के बारे में जागरूक किया जा रहा है।

ज्ञातव्य रहे कि साइबर अपराधी हर रोज नए-नए तरीके अपनाकर लोगों को ठगी का शिकार बना रहे हैं। इसलिए जीवन को सुरक्षित बनाएं रखते हुए अलर्ट रहना जरूरी है।यह किसी भी प्रकार से कुछ भी बोल सकते हैं, बीमार कर सकते हैं और किसी का झांसा देकर ठगी करने का प्रयास करते हैं।

वर्तमान में साईबर ठगों द्वारा आमजन की ईमेल आईडी, फेसबुक आईडी, वाटसएप, इस्टाग्राम आईडी आदि को हेक करके या आमजन के नाम से फर्जी आईडी बनाकर कर उस पर फर्जी प्रोफाईल फोटो लगाकर खुद को बीमार एवं गम्भीर समस्या में बताया जाता है ताकि नजदीकी परिचित विश्वास में आकर रुपये ऑनलाईन ट्रान्सफर कर देते है।

शकील अहमद खान पुलिस उप अधीक्षक ने बताया कि आमजन से अपील है कि ऑनलाईन ठगी से बचने के उपाय है कि फोन पर किसी को भी अपने अकाउंट की जानकारी गलती से भी न दें । अनजान व्यक्ति को कभी भी ओटीपी न बताएं, कोई भी बैंक अधिकारी आपसे ओटीपी नहीं मांगता है |

ध्यान रखिए यदि किसी से पैसे लेना हो तो ओटीपी की जरूरत नहीं होती है। ओटीपी तब चाहिए जब आपको पैसे देने होते हैं। फ्रॉड करने वाले इसकी मदद से बड़ी रकम अकाउंट से गायब कर देते हैं!ठग लोगों के पास लिंक भेजते हैं! उसे क्लिक करने पर जो पेज खुलता है वह ठगों द्वारा बनाया गया होता है!इसमें लोग अपने अकाउंट की जानकारी साझा करते हैं और इसकी मदद से लोगों के खाते खाली हो जाते हैं ।

अनजान व्यक्ति से निजी जानकारी साझा न करें। अपने इमेल आईडी के पासवर्ड के रुम में अपने मोबाईल नम्बर का प्रयोग नहीं करे । फेसबुक पेज पर यदि कोई सस्ता वाहन बेचने का दावा करता है तो पहले उस व्यक्ति से मिलकर पूरी जानकारी जुटा लें।वही इस दौरान पुलिस उप अधीक्षक ने बताया जबकि साईबर ठगो द्वारा स्वंय के बैक खाते का स्केनर जरिये वाटसएप व मैसेन्जर के माध्यम से भेजा जाकर ठगो द्वारा रुपये अपने खाते मे डलवाये जा रहे है ।

विगत दिनों मे उपखण्ड उनियारा मे साईबर ठगो द्वारा कही लोगो से उक्त तरीके से ठगी करना सामने आया है। इस सम्बन्ध में आमजनता से जनहित में पुलिस की अपील है कि कोई भी व्यक्ति उक्त तरीके से आप से रुपये की मांग करता है तो मैसेज पर विश्वास नही करके सम्बन्धित व्यक्ति से फोन के माध्यम से बातचीत करके पुर्ण विश्वास होने पर ही ऑन-लाईन रुपये का लेनदेन करें! ताकि साईबर ठगी से बचा जा सकें। बल्कि उसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दें ताकि ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जा सकें।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.