स्टेट हाइवे की पुलियाओं का अधूरा निर्माण, किसानों के खेतों मे भरा बरसात का पानी

Tonk News /पीपलू / (ओपी शर्मा)।  सोहेला-डिग्गी स्टेट हाइवे 117 पर सोहेला से नाथड़ी के बीच तीन पुलियाओं का निर्माण समयावधि निकल जाने के बावजूद भी अधूरा होने से किसानों, वाहन चालकों के लिए यह आफत बनता जा रहा हैं। जबकि करीब एक साल से इस मार्ग पर वाहनों से टोल वसुली की जा रही …

स्टेट हाइवे की पुलियाओं का अधूरा निर्माण, किसानों के खेतों मे भरा बरसात का पानी Read More »

August 5, 2021 4:53 pm

Tonk News /पीपलू / (ओपी शर्मा)।  सोहेला-डिग्गी स्टेट हाइवे 117 पर सोहेला से नाथड़ी के बीच तीन पुलियाओं का निर्माण समयावधि निकल जाने के बावजूद भी अधूरा होने से किसानों, वाहन चालकों के लिए यह आफत बनता जा रहा हैं।

जबकि करीब एक साल से इस मार्ग पर वाहनों से टोल वसुली की जा रही हैं। सोहेला व हाडीकलां में नवीन पुलिया का निर्माण नहीं होने तक पुरानी पुलिया से आवागमन सुचारू रखा गया था। जो गत वर्ष की बारिश के दौरान बह गई थी।

जिसे बाद में ठेकेदार द्वारा अस्थाई रूप से पाइप डालकर रपट बनाई गई थी। सोहेला क्षेत्र में लगातार बारिश के बाद पुरानी रपट पर आए अवरोधक तथा पानी का सही से निकास नहीं होने से किसानों के खेतों मे बरसात का पानी जमा हो गया जिससे उनको काफी नुकसान पहुंचा है।

किसान कैलाश गोरा ने बताया की हाइवे पुलिया निर्माण ठेकेदार की ओर से नई पुलिया निर्माण करके उस पर कंक्रीट डाकर छोड़ दिया। पुराना रपटा नहीं हटाने से किसानों के खेतों पानी से लबालब हो गए। जिससे करीब दस किसानों की फसलें पूरी तरह से नष्ट हो गई।

इस परेशानी के बाद बुधवार शाम ग्राम पंचायत प्रशासन की सहायता से जेसीबी मशीन से पुरानी पुलिया को तोड़कर पानी का निकास करवाया गया हैं। किसान ने बताया कि स्टेट हाइवे 117 पर पर 32 किलोमीटर तक का रोड़ बनाया गया है। जिसमे 3 पुलियाओं का निर्माण सोहेला, हाडीकला, नाथडी माशी नदीं पर होना था। जिन पुलियाओं निर्माण कछुआ चाल से किया जा रहा है।

पुलियाओं पर डामरीकरण नहीं करने से आए दिन वाहन चालक भी चोटिल हो रहे है। वहीं पुलियाओं का निर्माण अधूरा होने के बावजूद नियम विरुद्ध आरएसआरडीसी कम्पनी द्वारा एक साल पहले से ही टोल की वसुली की जा रही हैं।

नियमों को दरकिनार करते हुए टोल के आस-पास बसें 5 किलोमीटर तक के ग्रामीणों से भी टोल वसुला जा रहा है। जिसको लेकर कितनी ही बार आरएसआरडीसी टोंक के पीडी से भी शिकायत की गई लेकिन पीडी द्वारा कोई सुनवाई नहीं की गई।

गिट्टी से हादसे का शिकार

हाड़ीकलां गांव के हाइवे सड़क नाला पर बिना दिशा सूचक लगाए निर्माण के लिए गिट्टी के ढेर लगा दिए गए। जिसके चलते अब तक दर्जनों वाहन चालक चोटिल हुए हैं तथा वाहन क्षतिग्रस्त हुए हैं। हालांकि बाद में इसकी सूचना के बाद रात को ही पहुची कम्पनी ठेकेदार की जेसीबी ने सड़क पर गिट्टी फैलाते हुए इतिश्री कर दी।

इस मार्ग पर गत रात्रि में भी थोड़ी थोड़ी देर में तीन वाहन क्षतिग्रस्त हुए। इनमें टोंक विकास विहार निवासी परिवार सहित रात 8 बजे टोंक जा रहे थे। जिनकी कार गिट्टी के ढ़ेर पर चढ़ जाने से क्षतिग्रस्त हुई और कार में बैठे परिवार के 5 व्यक्ति चोटिल हुए। जिन्हें टोंक ले जाकर प्राथमिक उपचार कराया गया। वहीं एक घायल को जयपुर रैफर किया गया।

इससे पहले दो अज्ञात वाहन भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। पुलिया के जर्जर मार्ग के कारण रोजाना इधर आवाजाही करने वाले वाहन चालकों को कभी पंचर होने से तो, कभी टायर फटने से तो, कभी वाहन का रेडिटर टूटने व अन्य तकनीकी खराबी चलते परेशानी होती है लेकिन टोल सड़क कंपनी कोई ध्यान नहीं दे रही हैं।

Prev Post

सोहेला मिर्च मंडी की दीवार गिरी

Next Post

शिक्षा विभाग : भीलवाड़ा के शर्मा बने संयुक्त निदेशक,तेली सीडीईओ, नवनियुक्त डीईओ को मिली पदोन्नति

Related Post

Latest News

असली गद्दार धारीवाल और जोशी है - दिव्या , गहलोत पर भी कसा तंज
सोनिया गांधी को आज लिखित रिपोर्ट सौंपेंगे अजय माकन, गहलोत के सिपहसालारों पर कार्रवाई संभव 

Trending News

भीलवाड़ा में गुटखा व्यापारी का दिनदहाडे अपहरण, 5 करोड़ फिरौती मांगी, 3 हिरासत में 
ब्रश, स्पंज और उंगलियों से लिक्विड फाउंडेशन कैसे लगाएं
आपके जीवन में स्वस्थ कितना जरुरी हैं और आहार क्या है, फायदे और डाइट चार्ट
बोलेरो को ट्रेलर ने मारी टक्कर तीन की मौत दो बच्चों सहित पांच गम्भीर घायल, भीलवाड़ा रैफर

Top News

असली गद्दार धारीवाल और जोशी है - दिव्या , गहलोत पर भी कसा तंज
राजस्थान में कुर्सी की लडाई,गांधी परिवार की किरकारी,कांग्रेस की पोल खुली,बदल सकता CM ?
देश के 8 राज्यों में PFI के ठिकानों पर छापे,मौलवी सहित 150 से अधिक हिरासत में ,जामिया यूनिवर्सिटी में धारा 144 
सोनिया गांधी को आज लिखित रिपोर्ट सौंपेंगे अजय माकन, गहलोत के सिपहसालारों पर कार्रवाई संभव 
गहलोत सरकार के मंत्री शांति धारीवाल का बड़ा आरोप, गहलोत को हटाने का षड्यंत्र रच रहे थे माकन, सबूत पेश कर दूंगा
ACB का धमाका - PHED का चीफ इंजीनियर और दलाल 10 लाख रिश्वत लेते गिरफ्तार
जी 6 के विधायकों का गहलोत कैंप पर तीखा हमला, कहा- 'आलाकमान को आंख दिखाने वालों पर हो कार्रवाई'
मंत्री धारीवाल ने माकन के वक्तव्य पर किया पलटवार, माकन और आलाकमान को किया कटघरे में खड़ा
कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए आ सकता है नया नाम, कौन, जानें पढ़े ख़बर