Reader of Tonk Court Revenue Appeal Officer's office caught taking bribe of 12 thousand,
टोंक राजस्थान

टोंक न्यायालय राजस्व अपील अधिकारी कार्यालय के रीडर 12 हज़ार की रिश्वत लेते पकड़ा, संपति के वाद में मांग रहा था रिश्वत,

टोंक (फ़िरोज़ उस्मानी)। टोंक एसीबी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए टोंक न्यायालय राजस्व अपील अधिकारी कार्यलय के रीडर को 12 हज़ार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। परिवादी से एक संपति के वाद में मदद करने की एवज में मांगी गई थी। ये पूरी कार्रवाई टोंक एएसपी राजेश आर्य के नेतृत्व में की गई है।

जानकारी के अनुसार परिवादी ने एसीबी में मामला दर्ज कराया था कि न्यायालय राजस्व अपील अधिकारी, जिला टोंक में उसका एक पैतृक सम्पत्ति के संबंध वाद चल रहा है। जिसमे मदद के लिए न्यायालय राजस्व अपील अधिकारी, जिला टोंक का वरिष्ठ सहायक (रीडर) लक्ष्मीनारायण 15 हज़ार रुपये की मांग कर परेशान कर रहा है।

जिसके बाद परिवादी व रीडर में 12 हज़ार रुपये में मामला तय हुआ, जिसके बाद परिवादी ने एसीबी में मामला दर्ज कराया, मामले का सत्यापन कर टोंक एसीबी ने कार्यालय से वरिष्ठ सहायक (रीडर) लक्ष्मीनारायण पुत्र लालचंद रैगर निवासी मकान नं0 15,

चन्द्रलोक होटल के पास, टोंक हाल वरिष्ठ सहायक ( रीडर) न्यायालय राजस्व अपील अधिकारी, जिला टोंक को परिवादी से 12 हजार रूपये की रिश्वत राशि लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया है। एसीबी इसके ठिकानों पर भी जांच कर रही है।

Firoz Usmani
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।