टोंक राजस्थान

तीन माह पूर्व हुई पेड़पर लटके शव के मामले में कोई कार्यवाही नहीं

टोंक। जिले के टोडारायसिंह उपखण्ड के गांव पंवािलया मेंं तीन माह पूर्व हुई पेड़पर लटके शव के मामले में कोई कार्यवाही नहीं होने पर पीडित पक्ष ने थानाधिकारी सहित पुलिस अधीक्षक टोंक को प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाते हुए नामदज ओरोपियों का जल्द गिरफ्तार करने की मांग की है।

पंवालिया गांव के राजेश पुत्र रघुनाथ रैगर ने प्रार्थना पत्र में बताया कि पीडित का भाई मनोज पुत्र रघुनाथ रैगर निवासी पंवािलया गत 2 अगस्त 2022 को शाम करीब 6 बजे सत्यनारायण पुत्र हरजी रैगर निवासी संवारिया के साथ पंवालिया गांव के तन में ब्राह्मणों का बास गांव मांदोलाई रोड पर लेकर आया था, लेकिन 3 अगस्त को दोपहर करीब 2 बजे प्रार्थी का भाई मनोज का शव पेड पर लटका मिला। जिसकी टोडारायसिंह थाना में 6 अगस्त को रिपोर्ट दर्ज करवाई गई।

जिस पर मनोज रैगर का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया। साथ ही समाज के प्रबुद्धजनों द्वारा एसडीएम को ज्ञापन देकर निष्पक्ष जांच करने की मांग की गई थी। प्रार्थना पत्र में बताया कि जांच जारी है, लेकिन तीन माह बीत जाने के बाद भी जांच पूरी नहीं की गई है।

पीडित ने बताया कि जांच के दौरान प्रार्थी के भाई मनोज की हत्या करने वाले आरोपी खुले में घुम रहे है, जिनकी नामदज रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी। पीडित ने बताया कि इसी संदर्भ में गत 29 अक्टूंबर को प्रार्थी का भाई सुरेश पुत्र रघुनाथ रैगर अपने बाडें में मवेशियों की रखवाली के लिए सो रहा था

रात को करीब 11 बजे 4-5 नकाबपोश व्यक्ति बाडे में घुसे और मारने के नीयत से सुरेश पर लकडी, सरिया तथा धारदार हथियारों से हमला करने से पूर्व ही सुरेश की आंख खुल गई और जैसे तैसे सुरेश अपनी जान बचाकर बाडे से भाग कर घर आ गया। जिससे परिजनों में भय बना हुआ है। कभी भी अनहोनी की घटना को कारित कर ने की संभावना बनी हुई है।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.