परिवार को बाहर से बंद कर दिए जाने के मामलें में दिया ज्ञापन

Memorandum given in case of family being closed from outside

टोंक।  जिले के टोडारायसिंह कस्बे में पछले कई दिनों से भय का माहौन बना होने के साथ ही बीती रात्रि को एक परिवार को बाहर से बंद कर दिए जाने के मामलें क्षेत्र के लोगों ने उपखंड अधिकारी रुबी अंसार के नाम तहसीलदार को ज्ञापन देकर रात्रि में पुलिस की व्यवस्था कराएं जाने की मांग की है।

जाानकारी कस्बे में पिछले कई दिनों से इमाम चौक घाटी रैगरान मंदिर के पीछे और रैगर धर्मशाला के आसपास कई दिनों से भय का माहौल बना हुआ था, रोज कुछ ना कुछ घटनाएं घटित हो रही थी,  कई दिनों से नलो के मीटर गेहूं की बोरियां चोरी हो चुकी थी और  गत रात तो एक परिवार को बाहर से बंद कर दिया गया .

इस तरह के भय के माहौल के बीच पूरे मोहल्ले वासियों ने पार्षद प्रतिनिधि निशां अमित वर्मा के नेतृत्व में एसडीएम के नाम ज्ञापन सौंपा और मंाग की कि रात्रि के समय पुलिस व्यवस्था की जावे।  ज्ञापन देने वालों में राम लाल, वर्मा किशनलाल वर्मा राजपाल वर्मा, पूरण वर्मा बिहारी वर्मा, प्रवीण वर्मा ,नंदलाल वर्मा सुरेश वर्मा, शंकर वर्मा हेमराज वर्मा रामस्वरूप, राधेश्याम,रामनारायण आदि कस्बे वासी मौजूद थे।

 

स्कूल में लगाये गये पौधों को छात्र छात्राओं को गोद दिया

टोडारायसिंह।साहित्य मंच टोडारायसिह के तत्वावधान में राउमावि गोपालपुरा ब्लॉक टोडारायसिह में वरिष्ठ साहित्य कार एवं अतिरिक्त जिला कलेक्टर सवाईमाधोपुर डॉ. सूरज सिंह नेगी की अनूठी पहल, आओं पेड़ गोद ले, के तहत स्कूल में लगाये गये पौधों को छात्र छात्राओं को गोद दिया गया।

वर्षा काल से अब तक जिन छात्र छात्राओं का पर्यावरण संरक्षण में सराहनीय कार्य रहा। उनका शाला परिवार के शिक्षकों एवं प्रधानाचार्य द्वारा माला पहनाकर एवं पेन देकर सम्मान किया। इस अवसर पर प्रधानाचार्य श्याम सुंदर शर्मा  ने अवगत कराया कि पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधे लगाने के साथ साथ उनके पालन पोषण के लिए प्रेरित किया। एक पौधे को लगाने में उतनी ही मेहनत करनी पड़ती जितनी एक माँ अपने बच्चों को पालन पोषण में करती है।

धरती का श्रृंगार पेड़ है जीवन का आधार पेड़ है, पेड़ हमें जीवन भर आक्सीजन देते हैं। गोद दिए गए पौधों को छात्र छात्राओं को  देखरेख करने का दायित्व प्रदान किया गया। कार्यक्रम में शाला परिवार के शिक्षक गण मौजूद रहे।