डासं व संगीत मे छिपी हुई प्रतिभाओ को निखारेगा इण्डियन आईडियल एकाडमी एक मई 2018 से टोंक मे होगी डांस क्लाशेज की शुरूआत

टोंक (एस.एन.चावला)। जिले मे डांस व संगीत की दुनिया मे रूचि रखने वाली प्रतिभाओ को अब इण्डियन आईडियल एकाडमी न केवल निखारेगी बल्कि उन्हे उच्च स्तर पर सम्मानजनक मंच भी मुहया करवायेगा। जिसकी शुरूआत आगामी एक मई से टोक मे की जायंगी। शुक्रवार को इण्डियन आईडियल एकाडमी के राज्य प्रभारी महेन्द्र सिंह राठोड ने यहा अम्बेडकर कालोनी स्थित एक निजी स्कुल मे  आयोजित प्रेस वार्ता मे बताया कि प्रतिभाओ की कोई कमी नही है जरूरत इस बात की है कि उन्हे सही समय पर तराशा जाये। जिसके लिय डांस व संगीत की दुनिया मे मशहूर इण्डियन आईडियल प्रोगाम से रजिस्टर्ड लोगो द्वारा 5 से तीस वर्ष आयु वर्ग के युवाओ को प्रशिक्षण दिया जायेगा।  राठोड ने इण्डियन आईडियल कार्यक्रम की जिला कोर्डिनेडर शिवानी सिंह, वाईस कोर्डिनेटर नीलू शर्मा, प्राचार्य क्रिसटन आदि की मोजुदगी मे पत्रकारो को बताया कि उनका मकसद शिक्षा के साथ साथ डांस व संगीत के प्रति जागरूकता बडाकर युवाओ मे छिपे हुये टेलेन्ट को बाहर लाना है। जिला कोर्डिनेडर शिवानी सिंह ने किसी भी कार्यक्रम की सफलता के लिय मिडीया की सहभागिता को अहम बताते हुये कहा कि बताया कि अम्बेडकर कालोनी स्थित  निजी स्कुल मे डांस स्कुल चलाई जाकर कुल 36 वर्क शाप लगाई जायेगी। उन्होने बताया कि 5 से 15वर्ग व 15 से 30 आयु वर्ग मे अलग अलग डांस क्लासेज लगाई  जायेगी। जिनके द्वारा टोंक जिले मे छिपी हुई प्रतिभाओ के टेलेन्ट को ओर भी चमकाया जायेगा। ताकि वह नेशनल प्रोगाम तक पहुच सके।