Harassed the woman on superstition by calling her a thief, grabbed an amount of more than 75 thousand,
टोंक राजस्थान

अंधविश्वास पर महिला को चोर बताकर किया प्रताड़ित, 75 हज़ार से अधिक की राशि हड़पी, ग्राम के पंच पटेलों ने किया था फैसला, पीड़ित महिला ने 19 जनों पर कराया मामला दर्ज

टोंक (फ़िरोज़ उस्मानी) । टोंक के अलीगढ़ थानान्तर्गत अंधविश्वास के चलते पंच पटेलों द्वारा योजनाबद्ध तरीके से ग्राम में हुई एक चोरी का आरोप एक महिला पर मंड कर 75 हज़ार रुपये की राशि हड़पने व महिला सहित परिवार को प्रताड़ित करने का मामला सामने आया है। पीड़ित महिला ने परेशान होकर कोर्ट में इस्तगासा के जरिये 19 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।

जानकारी के अनुसार पीड़िता सुगना पत्नी कनीराम ने बताया कि अलीगढ़ थाना में सआदत नगर निवासी श्योजी पुत्र जंसीलाल ने 11 जून 2022 को घर मे चोरी का मामला अज्ञात चोरों के खिलाफ दर्ज कराया था, जब पुलिस ने मामले ने गंभीरता नही दिखाई तो मामला ग्राम के पंच पटेलों के पास गया।

 

पंच पटेलों का फैसला

अंधविश्वास में फंस कर पंच पटेलों ने तंत्र मंत्र से चोर का नाम बताने का दावा करने वाली भरतपुर की एक महिला सुणी देवी से मिलना तय हुआ।

महिला को बताया चोर

इसके बाद पीड़िता महिला सुगना देवी का आरोप है कि पंच पटेलों ने उस पर चोरी का झूठा आरोप लगा दिया, उसको जान से मारने व पुलिस में पकड़वाने का डर दिखाकर अमानत राशि के रूप में 75 हज़ार रुपये व चोरी इन पता लगवाने के लिए आने जाने हज़ारों रुपए भी ले लिए।

सत्यता जानने पहुँची पुलिस

पुलिस के पास भी ये पूरा मामला पहुचा, तब अलीगढ़ थाना के एएसआई देवलाल गुर्जर मामले की सत्यता जानने के लिए गाँव के पंच पटेलों जे साथ चोर का नाम बताने वाली महिला सुणी देवी के पास पहुँचे, पूछताछ करने पर सुणी देवी ने चोर के रूप में किसी का भी नाम बताने से इंकार कर दिया। हालांकि पुलिस चोर का नाम बताने की एवज में ली गई राशि सुणी देवी से वापस ले आई है।

इनका कहना है

वहीं दूसरी और अलीगढ़ थानाधिकारी अयूब खान का कहना है कि सुगना ने इस्तगासे के जरिये मामला दर्ज कराया था, मामले में मुख्य आरोपी श्योजी को गिरफ्तार किया जाएगा, अभी आरोपी ने कोर्ट में अग्रिम जमानत की अपील की हुई है, वहीँ
पूरे मामले में चोर का नाम बताने वाली भरतपुर की महिला से पूछताछ की उसने किसी महिला का नाम लेने से मना किया है। इसलिए ये मामला अंधविश्वास से नही जोड़ा जा सकता।

Firoz Usmani
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।