टोंक

गरीब, मजदूर व वंचित वर्ग को सरकार की योजनाओं का अधिकाधिक लाभ दें – सचिन पायलट

Tonk News। पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं टोंक विधायक सचिन पायलट (sachin pilot)ने कहा कि प्रशासन गांवों व शहरों के संग अभियान-2021 में गरीब, मजदूर व वंचित वर्ग को सरकार की योजनाओं का अधिकाधिक लाभ दें।

आमजन भी इस अभियान में पहुंचकर ज्यादा से ज्यादा लाभ लें। पायलट ने कहा कि विगत ढाई साल में हमारी सरकार ने नीति निर्माण एवं उसकी क्रियान्विति में बेहतर काम किया है।

सचिन पायलट (sachin pilot)ने सोमवार को ग्राम पंचायत अरनियामाल में प्रशासन गांवो के संग अभियान के दौरान आमजन को संबोधित करते हुए यह बात कही। इस अवसर पर जिला कलेक्टर चिन्मयी गोपाल, पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश, सीईओ डॉ.सौम्या झा, एडीएम मुरारी लाल शर्मा, उपखण्ड अधिकारी नित्या के भी मौजूद रहे।
श्री पायलट ने कहा कि केन्द्र मंे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सरकार थी। उस दौरान आमजन के हित में अभूतपूर्व कानून बनाए गए।

 

लोगों को रोजगार देने के लिए मनरेगा, सूचना का अधिकार, शिक्षा का अधिकार, खाद्य सुरक्षा का अधिकार आदि कानून बनाकर लाभ दिया गया। कोरोना काल में मनरेगा ने ग्रामीण क्षेत्रों में संजीवनी बनकर लोगों की आर्थिक मदद की। कोरोना की पहली व दूसरी लहर के दौरान जब लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा था, उस समय मनरेगा ने सहारा दिया।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की दस साल की सरकार में 18 करोड लोगों को गरीबी रेखा से बाहर निकाला गया। इस देष में किसान अर्थव्यवस्था की रीढ की हड्डी है। प्रशासन गांवो के संग अभियान में किसानों के हित के ज्यादा से ज्यादा काम किए जाए।

पायलट ने कहा कि प्रदेश एवं जिले में खाद की कमी चल रही है। उन्होंने आष्वासन दिया कि आगामी 36 घंटों में जिले में खाद की कमी को पूरा करने का प्रयास किया जाएगा। साथ ही बिजली काटौती को भी कम किया जाएगा। पायलट ने प्रषासन गांवो के संग अभियान के षिविर में पात्र व्यक्तियों को सरकार की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया।

पायलट ने प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देश दिए कि आवासीय भूखण्डों पर दिए जाने वाले पट्टों पर लाभार्थी की फोटो भी लगाई जाए। संबोधन के पश्चात पायलट ने विभिन्न सडकों का लोकार्पण किया।

अरनियामाल में प्रशासन गांवों के संग अभियान के बाद पायलट ग्राम पंचायत मेहन्दवास पहुंचे। जहां वे ग्रामवासियों से रूबरू हुए। उन्होने ग्रामीणों की विभिन्न समस्याओं को सुना और उनके निस्तारण के निर्देष दिए। इस अवसर पर श्री पायलट ने ग्राम पंचायत मेहन्दवास के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मंे विधायक कोष से 2 कमरे बनाने तथा श्मशान भूमि पर टीनशेड व बैठने की व्यवस्था करने की घोषणा की।

अतिरिक्त जिला कलेक्टर मुरारी लाल शर्मा ने प्रशासन गांवो के संग अभियान की जानकारी देते हुए बताया कि टोंक जिले में अब तक 21 शिविर आयोजित किए जा चुक है। जिसमें 3 हजार 495 आवासीय भूखण्डों के पट्टे दिए गए है। प्रदेश में टोंक जिला प्रथम पायदान पर है। इसके साथ ही राजस्व संबंधी कार्याे के निस्तारण में भी प्रदेष में टांेक टॉप फाइव जिलों में शामिल है।

अभियान के दौरान टोंक प्रधान सुनीता गुर्जर, जिला परिषद सदस्य ममता चौधरी, निवर्तमान जिला अध्यक्ष लक्ष्मण गाता, सऊद सईदी, पंचायत समिति सदस्य राधा किशन यादव,टोंक कांग्रेस प्रभारी महेंद्र सिंह खेड़ी,सादिक़ चौहान, पंचायत समिति सदस्य सुमन गुर्जर, सरपंच रूप नारायण प्रजापत, हंसराज गाता, सुनील बंसल, रामसिंह मुुकुल भी मौजूद रहे।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.