गर्मी में गहराया पेयजल संकट, जनता को अपने हक के लिए सड़कों पर उतर कर जाम लगाना पड़ रहा है प्रदर्शन

 

 

 

टोंक । शहर की जनता को इस भीषण गर्मी में पानी की परेशानी से रूबरू होना पड़ रहा है। इसकी वजह से जनता को सड़कों पर आने पर मजबूर कर दिया ।विभागीय अधिकारी नकारा हो चुके हैं हवाई वादे और हवाई दावे किए जा रहे हैं और जनता को अपने हक के लिए सड़कों पर उतर कर जाम लगाना पड़ रहा है प्रदर्शन करना पड़ रहा है। टोंक शहर के 45 वार्डों में से कुछेक वार्ड ही  ऐसे होंगे जहां पर पेयजल की समस्या नहीं हो 48 घंटे में एक बार पानी वह भी चंद मिनटों के लिए पीने का भी पानी नहीं भरता तो नहाने धोने का कहां से लाएं हालात कमोबेश हर मोहल्ले हर गली के ऐसे ही हैं हर बार दावा किया जाता है गर्मियों में पेयजल को लेकर परेशानी नहीं आने दी जाएगी लेकिन हर बार गर्मियां आती हैं

इसी तरह से लोग परेशान होते हैं और फिर गर्मियां भी जाती है लेकिन जनता की परेशानियां दूर नहीं होती मोती बाग इलाके में भी पिछले कई दिनों से नलों में पानी नहीं आ रहा जलदाय विभाग के अधिकारियों को गुहार लगाई लेकिन किसी ने सुनवाई नहीं की जनप्रतिनिधियों से कहा तो वो नकारा साबित हुए हैं नतीजा यह रहा कि जो जलदाय विभाग के अधिकारी उनके सुनने को तैयार नहीं थे जाम लगाने के बाद दौड़ते हुए उनके पास आए 24 घंटे में समस्या का निराकरण करने का आश्वासन दिया और जाम खोलने की मन्नतें करने लगे। अब तो शहर के लोगों में एक ही धारणा बन चुकी है कि अगर जलदाय विभाग के अधिकारी उनकी समस्याओं पर ध्यान नहीं देते तो रास्ते पर जाम लगा दो अपने आप समस्या का निराकरण भी हो जाएगा और अधिकारी उनकी समस्या को सुन भी लेंगे