जयंति या पुण्यतिथि – टोंक के 14 अप्रेल को बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की जयंती या पुण्यतिथि में फर्क नही मालूम सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग को

टोंक।(फ़िरोज़ उस्मानी) हमारे देश का दुर्भाग्य है कि सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों को जयंती और पुण्यतिथि में फर्क नज़र नही आ आता, जिसका जीता जागता उदाहरण टोंक के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग में देखने को मिला है। इस कार्यालय दुवारा 14 अप्रेल 2018 को होने वाले कार्येकर्मो के लिए सभी छात्रावासों को एक पत्र जारी किया गया है। जिसमे बाबा सहाब भीमराव अंबेडकर की जयंति के स्थान पर पुण्यतिथि अंकित किया हुआ है। सहायक निदेशक की मार्किंग सहित जारी इस पत्र को लेकर लोगों में खासा रोष वयाप्त है। वही दूसरी और देखना ये है कि इस बड़ी चूक पर क्या कार्येवाई की जाती है। हालांकि ऐसे मामलों में ज़्यादातर अधिकारी कम्प्यूटर की गलती बता कर बचते आ आये है।