टोंक

बिजली निगम की वसूली टीम को मिले पर्याप्त पुलिस सुरक्षा, राज्य सरकार से वसूली में पेनल्टी व छूट के जनहित में निर्देश जारी करने का आग्रह – गांधीवादी विचारक मुजीब आजाद

Tonk l बकाया बिजली के बिलों की वसूली के लिए अन्नपूर्णा डूंगरी क्षेत्र मे बिजली निगम के अधिकारी कर्मचारियों के साथ मारपीट व राजकार्य में बाधा डालने की घटना की घटना से व्यथित गांधीवादी विचारक मुजीब आजाद ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को पत्र लिखकर वास्तविक स्थिति से अवगत कराया है पत्र में लिखा है कि बिजली निगम की वसूली टीम को पर्याप्त पुलिस सुरक्षा उपलब्ध कराई जानी चाहिए ताकि राजस्व वसूली मैं व्यवधान उत्पन्न ना हो वही राज्य सरकार के स्तर पर बिजली के बिलों की वसूली में पेनल्टी वह छूट के निर्देश जनहित में जारी किए जाने का आग्रह भी किया है l

मुजीब आजाद ने कहा कि हिंसा किसी भी समस्या का समाधान नहीं है 31 मार्च 2021 की घटना का सामने आना चिंता का विषय है,राजकार्य में लगी बिजली निगम की टीम पर हिंसात्मक होकर हमले से राजकीय कर्मचारियों को बकाया वसूली में परेशानियों का सामना करना पड़ेगा, अपराधिक प्रवृत्ति के ऐसे लोग जो बिजली चोरी के कृत्यों में लिप्त रहते हैं l

 

उनके दुस्साहस बढ़ेंगे तथा राजस्व वसूली बाधित होगी, बकाया बिजली के बिलों की वसूली में पुलिस सुरक्षा की दृष्टि से सहयोग करती है मंगलवार को घटित हुई घटना में बिजली निगम के कनिष्ठ अभियंता हनुमान चौधरी व राकेश मीणा पर हमला, मारपीट करने वाला व्यक्ति पुलिस विभाग का कांस्टेबल है, जिसके विरुद्ध अभिलंब कार्रवाई की जानी चाहिए l

 

राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से आग्रह किया है कि बकाया वसूली में लगी बिजली निगम की अभियंता टीम को सुरक्षा मुहैया कराने के लिए पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध कराया जावे ताकि राजकार्य में बाधा उत्पन्न ना हो सके इसके साथ बिजली के बकाया बिलों में करोना कॉल को देखते हुए शिथिलता बरतने के निर्देश दिए जाने चाहिए मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि प्रति वर्ष मार्च माह में बकाया वसूली में राजस्व अर्जित करने के उद्देश्य से एकमुश्त जमा योजना के तहत छूट प्रदान की जाती है l

वह भी निगम में इस वर्ष प्रदान नहीं की गई है तथा बकाया बिलों की वसूली में शुल्क व पेनल्टी इत्यादि मैं राहत दिए जाने के निर्देश भी अब तक जानकारी में नहीं आए हैं मात्र कृषि के बिलों में वसूली के लिए छूट के कुछ निर्देश आए हैं, देश में आर्थिक मंदी के चलते हुए उपभोक्ता परेशान हैं उसकी परिस्थितियों के अनुसार वसूली के आवश्यक मार्गदर्शन जारी किए जाने चाहिए l

 

विदित रहे कि टोंक निवासी मुजीब आजाद राष्ट्रपिता महात्मा गांधी द्वारा स्थापित गांधी आश्रम वर्धा से जुड़ी संस्थाओं में पदाधिकारी हैं तथा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150 वें जयंती वर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में कार्यरत हैं l

Firoz Usmani
Firoz Usmani Tonk : परिचय- पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले 15 वर्षो से संवाददाता के रूप में कार्यरत हुंॅ, 9 साल से राजस्थान पत्रिका ग्रुप के सांयकालीन संस्करण (न्यूज़ टुडे) में जिला संवाददाता के रूप से कार्य कर रहा हंू। राजस्थान पत्रिका न्यूज़ चैनल में भी अपनी सेवाएं देता रहा हूं। एवन न्यूज चैनल में भी संवाददाता के रूप में कार्य किया है। अपने पिता स्व. श्री मुश्ताक उस्मानी के सानिध्य में पत्रकारिता की क्षीणता के गुण सीखें। मेरे पिता स्व.श्री मुश्ताक उस्मानी ने भी 40 वर्षो तक पत्रकारिता के क्षैत्र में कार्य किया है। देश के कई बड़े न्यूज़ पेपर से जुड़े रहे। 10 वर्ष दैनिक भास्कर में ब्यूरों चीफ रहें।