बीसलपुर बांध में पानी की आवक तेज हुई, बीते 24 घंटे में 18 सेंमी पानी आया, जलस्तर हुआ 313.20

Tonk News /लियाक़त अली । बीसलपुर बांध(Bisalpur dam) क्षेत्र के जलग्रहण क्षेत्र में लगातार बरसात होने से बांध में गत 24 घंटे में 18 सेंमी पानी आने से रविवार शाम 313.20 आरएल मीटर दर्ज किया या गया। इस बार जल ग्रहण क्षेत्र में बरसात कम होने से बांध में पानी की आवक कम हुई है, …

बीसलपुर बांध में पानी की आवक तेज हुई, बीते 24 घंटे में 18 सेंमी पानी आया, जलस्तर हुआ 313.20 Read More »

August 30, 2020 5:20 pm

Tonk News /लियाक़त अली । बीसलपुर बांध(Bisalpur dam) क्षेत्र के जलग्रहण क्षेत्र में लगातार बरसात होने से बांध में गत 24 घंटे में 18 सेंमी पानी आने से रविवार शाम 313.20 आरएल मीटर दर्ज किया या गया। इस बार जल ग्रहण क्षेत्र में बरसात कम होने से बांध में पानी की आवक कम हुई है, गत साल अगस्त के अंतिम दिनों में सभी गेट खोल दिए गए थे।

बीसलपुर परियोजना के अधिशासी अभियंता आर सी कटारा ने बताया कि शनिवार को बांध के जल भराव वाले क्षेत्र में बरसात होने से करीब 24 घंटे में 18 सेमी पानी दर्ज किया गया है। इस प्रकार बांध में कुल करीब 23 टीएमसी पानी है, जो बांध के कुल भराव का लगभग 60 प्रतिशत पानी है। वहीं बांध स्थल पर पिछले 24 घंटे में अच्छी बरसात होने से त्रिवेणी का 1.53 मीटर गेज चल रहा है। मानसून सत्र में अबतक 576 एमएम बरसात हो चुकी है।

वहीं रोजाना 932 एमएलडी पानी की खपत

अधिशासी अभियंता कटारा ने बताया कि बीसलपुर बांध से जयपुर क्षेत्र को प्रतिदिन 590 एमएलडी, अजमेर क्षेत्र को 295 एमएलडी, टोंक क्षेत्र को 47 एमएलडी पानी प्रतिदिन पेयजल आपूिर्त मंे दिया जा रहा है, जो उनको पेयजल आपूिर्त की पूरी क्षमता के अनुसार दिया जा रहा है। बीसलपुर बांध के निर्माण 1999  में पूर्ण हो गया  था, लेिकन बांध के गेट पहली बार 2004 में खोले गए थे।

इसी प्रकार 1999 से 2016 में सबसे ज्यादा पानी की निकासी की जाने के बाद दूसरी बार 2019 को हुई है। पहली बार 2004 में खुले गेटों से 24 टीएमसी पानी की निकासी की गई थी तथा 2006 में दूसरी बार गेट खोलकर 43 टीएमसी पानी की िनकासी की गई। इसी प्रकार 2014 में बारिश की कमी के चलते,लेकिन बांध भर गया। इस बार केवल 11 टीएमसी पानी िनकाला गया।

चौथी बार 2016 भारी बरसात होने से 135 टीएमसी तथा 2019 में 94 टीएमसी पानी की  निकासी की गई। बीसलपुर बांध में अबतक जुलाई माह के अंत में ही पानी की आवक तेजी से होती रही और अगस्त माह में गेट खोले गए,लेकिन इस बार बरसात कम होने से पानी की आवक कम है। उन्होंने बताया कि पहली बार बांध के गेट 2004 में गेट खोले गए थे।

Prev Post

पितृ दोष, ज्योतिषीय योग एवं निवारण

Next Post

भाजपा का बिजली दरों में वृद्धि सहित विभिन्न मांगों को लेकर धरना विरोध प्रदर्शन कल

Related Post

Latest News

Tonk: आवारा श्वान ने 7 लोगों को काटा, अस्पताल गए तो वहां भी नही हुई सार संभाल ,VIDEO 
IAS अतहर और डाॅ. महरीन आज बंधे शादी के बंधन में ,VIDEO
राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की

Trending News

कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा
राजस्थान के मंत्रियो व कांग्रेस विधायको को चेतावनी
NPS कार्मिक 01 अप्रैल 2022 के पश्चात NPS आहरण की राशि को पुनः 31 दिसंबर 2022 तक एकमुश्त अथवा अधिकतम 4 किस्तों में जमा करानी होगी
चिरंजीवी योजना में सहायता के लिए फोन 01482-232643 पर करे घंटी 2 घंटे में समाधान

Top News

Tonk: आवारा श्वान ने 7 लोगों को काटा, अस्पताल गए तो वहां भी नही हुई सार संभाल ,VIDEO 
IAS अतहर और डाॅ. महरीन आज बंधे शादी के बंधन में ,VIDEO
राजस्थान के सरकारी स्कूलों में मूल निवास प्रमाण पत्र बनवाने की जिम्मेदारी संस्था प्रधान की
पूर्व मंत्री और NCP नेता भुजबल का दुबई कनेक्शन का आरोप, FIR दर्ज
नामदेव छीपा समाज के त्रिदिवसीय गरबा महोत्सव झंकार का समापन, महिला मण्डल की कार्यकारिणी का शपथ ग्रहण
माफी तो मांगी,लेकिन वायरल पन्ना बता रहा है कि सचिन पायलट और प्रभारी अजय माकन निशाने पर थे
PFI का सपोर्ट करने पर पाक सरकार का ट्विटर अकाउंट पर प्रतिबंध
कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव के बाद अब सलमान खान के डुप्लीकेट संजय की जिम में एक्सरसाइज के दौरान मौत
कोतवाली पुलिस कहिन रिपोर्ट दर्ज होने के बाद बता दिया जाएगा, बुजुर्ग महिला से लूट का प्रयास विफल ,लोगों ने युवक को पकड़ा ,VIDEO
कांग्रेस के नए राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे खड़गे,8 अक्टूबर को हो सकती घोषणा