Tonk / देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान ने की आर्थिक रुप से कमजोर विधवा महिला की मदद

Tonk News / देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान राजस्थान की तरफ  से नया गांव रहीमपुरा निवासी एक आर्थिक रुप से कमजोर परिवार की विधवा महिला मुखिया को रोजगार मे सहायता स्वरुप आर्थिक मदद एवं सिलाई मशीन प्रदान की गई।

राहुल गांधी की जयपुर युवा आक्रोश रैली पर भाजपा नेताओं की बयानबाजी, किसी ने फ्लॉप तो किसी ने बच्चा बताकर कसा तंज

फाउंडेशन के सदस्य मोहम्मद हारुन भाटी रहीमपुरा ने बताया  था कि इस महिला की उम्र 42 वर्ष है इनके पति की मृत्यु लगभग 10 वर्ष पहले खेत पर कार्य करते हुए बबूल के पेड के निचे दब जाने के कारण हो गई थी। ये महिला एक विधवा महिला है इनके एक लडक़ी और एक छोटा लडका है इनके  पालन पोषण और परिवार की आजीविका की जिम्मेदारी इसी महिला पर है , ये महिला विधवा होते हुए भी इस दयनीय स्थिति मे भी मेहनत और मजदुरी करके हिम्मत और होशला रखते हुए परिवार का गुजर बसर कर रही हैं। संस्थान के सदस्यों द्वारा इस परिवार की आर्थिक स्थिति का जायजा लेने पर जानकारी मिली कि ये परिवार काफी कमजोर है जिससे परिवार का  पालन पोषण ठीक तरीके से नहीं हो पाता है।

इस परिवार की मुखिया जो एक विधवा महिला है और आर्थिक रुप से कमजोर है तो संस्थान ने इस महिला के परिवार को रोजगार के जरीए आर्थिक स्थिति मजबूत करने हेतू सिलाई मशीन और 4500 नकद राशि प्रदान की गई। देशवाली मदद फाउंडेशन राजस्थान के दिलखुश खान देशवाली प्यावडी ने उपस्थित समाज बंधुओ को बताया कि संस्थान विधवा महिलाओं के रोजगार में, आर्थिक पिछड़े बच्चों की पढ़ाई में, आर्थिक पिछड़े परिवार व विधवाओं की बच्चियों की शादी में, किसी गरीब परिवार के आर्थिक नुकसान मे,बिमारी की स्थिति में ब्लड़ की व्यवस्था व आर्थिक कमजोर दिव्यांगों की सहायता करती है ।

मौके पर देशवाली मदद फाउंडेशन संस्थान राजस्थान के सदस्यों ने आर्थिक रुप से कमजोर परिवार को हर सम्भव सरकारी सहायता दिलाने में मदद का आश्वासन दिया। देशवाली मदद फाउंडेशन समाज मे आगे भी अपने कार्य क्षेत्र को बढ़ाती रहेगी और गरीब, असहाय और कमजोर परिवारों व हौनहार बालकों की शिक्षा मे मदद के लिए हमेशा तत्पर रहेगी। इस मौके पर देशवाली मदद फाउंडेशन के सदस्य दिलखुश खान प्यावडी एवं अब्दुल रहमान खान गुज, मसुद मोहम्मद गुज, शकुर खां भाटी, निसार भाटी, सत्तार भाटी, जब्बार भाटी, अल्ताफ ढुआ, निजाम खान, इमरान भाटी, आदि समाज बंधु उपस्थित रहे।