टोंक राजनीति राजस्थान

Tonk – अस्पताल में सांसाधन व डॉक्टर फिर भी जयपुर रैफर क्यों, ध्यान में आया हैं मामला लेंगे संज्ञान -पायलट

Tonk News – डिप्टी सीएम एवं टोंक विधायक सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने अपने निर्वाचन क्षैत्र टोंक में ही 37 दिन में 73 बच्चों को जयपुर रैफर किये जाने के सवाल का जवाब देते हुए कहा कि बिन कारण रैफर किया जाना उचित नही हैं यदि आवश्यक हो तो ही रैफर किया जावें यदि ऐसा कोई गम्भीर मामला आता हैं तो कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि जब अस्पताल में डॉक्टर सहित आवश्यक सभी संसाधन हैं तो फिर अनावश्यक रैफर क्यों किया जावें यह गम्भीर मामला हैं इसमें कहीं लापरवाही दिखी तो व्यक्तिगत रूप से कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने कहा कि टोंक में तीन सो पच्चीस करोड का मेडिकल कॉलेज स्वीकृत हो चुका अब सीवरेज का अधूरा काम हैं वह भी जल्दी ही शुरू जाएगा,जहां भी आवश्यकता पडेगी टोंक के विकास के लिए उसकेा प्राथमिकता से पूरा किया जाएगा। टोंक की जनता ने जिस विश्वास से कांग्रेस का साथ दिया हैं उसके विश्वास एवं आकांक्षा पर खरा उतरने की पूरी कोशिा करूूंगा इसमें कहीं भी भूल नही होगी।

अजमेर -चौथ का बरवाडा वाया टोंक रेल प्रोजेक्ट पिछले अजमेर सांसद कार्यकाल में मैने ही स्वीकृ त कराया था तो इसको पूरा भी कराया जाएगा ताकि टोंक की वर्षाे से चली आ रही रेल लाइन की मांग पूरी हो सकें। पिछली सरकार के समय केन्द्र एवं राज्य सरकार के बीच किसी कारण से यह काम नही हो सका अब मैने रेल मन्त्री से बात की हैं जल्दी ही टोंक रेल लाइन का काम शुरू होगा । यह कहना हैं डिप्टी सीएम सचिन पायलट का जो सोमवार को अपने निर्वाचन क्षैत्र टोंक में जनसुनवाई एवं पार्षदो व सरपंचो से मुलाकात किये जाने के कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि टोंक को रेल से जोडने के लिए हरसंभव कोशिश होगी आशा ही नही विश्वास हैं कि टोंक के काफी सालों से बन्द पड़े प्रोजेक्ट हैं वह वापस शुय होंगे।

डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि टोंक को ही नही बल्कि काफी सालों से बन्द पडी रेल रेल परियोजनाओं को शुरू कराने का कांग्रेस के मैनीफेस्टों में भी शामिल हैं जिसके लिए काम जल्दी ही प्रारम्भ होगा। उन्होंने कहा कि एक साल चुनाव एवं आचार संहिता में निकल गया अब चार साल जनता से किये गए वायदे पूरे करने के होंगे। एक साल में कुछेक काम भी हुए हैं जनता का आर्शीवाद भी मिला जिसका उदाहरण नगर परिषदों के चुनाव हैं जिसमें अधिकांश में कांग्रेस के बोर्ड बनें हैं वही अब तक हुए सरपंचो के चुनाव में भी जनता ने कांग्रेस सरपंचो को चुना हैं।

 

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.