Tonk: Agitated sarpanches gave memorandum for not issuing orders on promise and demand letter
टोंक राजस्थान

टोंक : वादा खिलाफी एवं मांग पत्र पर आदेश जारी नहीं करने से आक्रोशित सरपंचों ने दिया ज्ञापन

टोंक। सरपंच संघ के लिखित समझौते वादा खिलाफी एवं मांग पत्र पर आदेश जारी नहीं करने से आक्रोशित सरपंच संघ ने 36 मंागों का ज्ञापन जिला कलेक्टर को मुख्यमंत्री के नाम सौंपा। सरपंच के जिलाध्यक्ष मुकेश मीणा, सरपंच मुकेश गुर्जर, गीता, निर्मला, रूपनारायण कुम्हार, अशोक राव, तुलसीराम गुर्जर, मौसमी मीणा, सुरज्ञान गुर्जर, हंसराज फागणा, कैलाश चंद शर्मा, मनभर देवी, निर्मला देवी एवं नेमीचंद मीणा आदि ने दिये गये ।

ज्ञापन में बताया कि पंचायत राज विभाग सरकार के द्वारा सरपंच संघ से पंचायत राज मंत्री के साथ 21 मार्च में मांग पत्र पर समझौता किया गया था, लेकिन सरपंच संघ के प्रतिनिधि मंडल द्वारा बार-बार आग्रह के बाद भी जिन मांगों पर सहमति बन गई थी, उनके आदेश भी जारी नहीं किये जा रहे है।

उन्होने बताया कि नागौर दौरे के दौरान पंचायत राज मंत्री रमेश मीणा के द्वारा नरेगा में लगाये गये अनियमितताये घोटालों के आरोपों के कारण सरपंच संघ आहत होकर भारी निराशा एवं आक्रोश व्याप्त है, जिसके कारण होकर संरपंच संघ के द्वारा सरकार का ध्यान आकर्षण के लिए आंदोलन का निर्णय किया गया है। सरपंच संघ के संलग्र मांग पत्र पर सकारात्मक आदेश जारी करवाने करावे, अन्यथा सरपंच संघ द्वारा किये जाने आंदोलन की समस्त जिम्मेदारी सरकार की होगी। उन्होने बताया कि 5 जुलाई को जयपुर में अनिश्चितकालीन धरना महापड़ाव किया जायेगा।

liyaquat Ali
Sub Editor @dainikreporters.com, Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.