भीलवाड़ा राजस्थान

शिक्षिका रेप मामला- सीबीईओ और एसीबीईओ की कार्य प्रणाली कटघरे मे ?

भीलवाड़ा/ जिले की जहाजपुर विधानसभा क्षेत्र के पंडेर थाना अंतर्गत राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल की सेकंड ग्रेड की शिक्षिका के साथ स्कूल के ही प्रिंसिपल द्वारा रेप करने के मामले में जहाजपुर के मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी और अतिरिक्त ब्लॉक शिक्षा अधिकारी की भूमिका भी संदेह के दायरे में है? 

 

विदित है कि सीनियर सेकेंडरी स्कूल पंडेर की शिक्षिका के साथ स्कूल के ही प्रिंसिपल भगवान शर्मा द्वारा कोल्ड ड्रिंक में नशीली दवा मिलाकर रेप करने तथा वस्त्रहीन शिक्षिका के फोटो खींचकर उसे ब्लैकमेल कर बार-बार रेप करने के मामले में शिक्षिका द्वारा 3 जुलाई को पंडेर थाने में एफ आई आर दर्ज कराई थी और 5 जुलाई को पीड़िता शिक्षिका ने एफ आई आर की फोटो प्रति के साथ मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी जहाजपुर को लिखित में शिकायत देकर आरोपी प्रिंसिपल को तत्काल निलंबर कर कार्यवाही की मांग की थी लेकिन इस घटना की सूचना सीबीईओ जहाजपुर भोजराज शर्मा और अतिरिक्त सीबीडीओ जगदीश मीणा ने भीलवाड़ा जिला मुख्यालय पर अपने उच्च अधिकारी मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी (CDEO) को देना उचित नहीं समझा और 6 जुलाई को मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने पत्र क्रंमाक 1111 के जरिए CDEO को सूचना दी कि राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय पंडेर के प्रिंसिपल भगवान शर्मा के खिलाफ विद्यालय की ही गणित विषय की सेकंड ग्रेड शिक्षिका ने शिकायत की है जिसके साथ एफ आई आर संख्या 0112 पेस की है ।

उक्त प्रकरण एफ आर एफ आई आर सहित मूल ही आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित है। जबकि 6 जुलाई को तो उक्त समाचार मीडिया में ही प्रकाशित हो चुका था।

सवाल ये उठता है

अब सवाल यह उठता है कि जहाजपुर सीबीईओ भोजराज शर्मा और अतिरिक्त सीबीईओ जगदीश मीणा ने पीड़िता की तरफ सूचना लिखित में मिलते ही अपने उच्च अधिकारियों को भीलवाड़ा जिला मुख्यालय पर मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी(CDEO) को सूचना क्यों नहीं दी ? और आखिर सूचना नहीं देने में कोताही क्यों की ? क्या नियमों के तहत सीडीईओ को सूचना देना जरूरी नहीं था ? समाचार पत्रों में खबर प्रकाशित होने के बाद क्यों लेटर जारी कर सीडीईओ को सूचना दी गई ? ऐसे सवाल है जो सी बी ई ओ और अतिरिक्त सीबीईओ की कार्यप्रणाली को कटघरे में खड़ा करते है ?

इनकी जुबानी

मुझे इस घटना के बारे में जानकारी मीडिया के माध्यम से मिली इसके बाद मैंने जहाजपुर सीडीईओ को फोन करके जानकारी ली और उसके बाद तत्काल कार्रवाई करते हुए टीम बनाई तथा तथ्यात्मक रिपोर्ट ली और कार्यवाही की

 

ब्रह्मा राम चौधरी मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी भीलवाड़ा

Dr. CHETAN THATHERA
चेतन ठठेरा ,94141-11350 पत्रकारिता- सन 1989 से दैनिक नवज्योति - 17 साल तक ब्यूरो चीफ ( भीलवाड़ा और चित्तौड़गढ़) , ई टी राजस्थान, मेवाड टाइम्स ( सम्पादक),, बाजार टाइम्स ( ब्यूरो चीफ), प्रवासी संदेश मुबंई( ब्यूरी चीफ भीलवाड़ा),चीफ एटिडर, नामदेव डाॅट काम एवं कई मैग्जीन तथा प समाचार पत्रो मे खबरे प्रकाशित होती है .चेतन ठठेरा,सी ई ओ, दैनिक रिपोर्टर्स.कॉम