स्वस्तिधाम:देश के सबसे बड़े जहाज मंदिर के रूप में राष्ट्रीय अवार्ड इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज

जहाजपुर ( आजाद नेब ) अतिशयकारी श्री 1008 मुनीसुव्रतनाथ पंचकल्याणक महोत्सव के 6 वें दिन आज इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड का एक दल जय कुमार कोठारी,पवन अजमेरा अवं हेमंत वैद के साथ स्वस्तिधाम जहाज मंदिर आया एवं मंदिर का अवलोकन किया । तत्पश्चात इण्डिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड के विश्वदीप राय चौधरी ने आचार्य श्री 108 ज्ञानसागर जी महाराज एवं आर्यिका रत्न 105 श्री स्वस्ति भूषण माता जी एवं हजारों भक्त जनों की उपस्थिति में इस जहाज मंदिर स्वस्ति धाम को देश के सबसे बड़े जहाज मंदिर के रूप में राष्ट्रीय अवार्ड इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज करने की घोषणा की। आज यह जहाज मंदिर एवं संपूर्ण स्वस्ति धाम जो कि आर्यिकारत्न 105 स्वस्ति भूषण माताजी के मार्गदर्शन एवं सानिध्य में बनकर तैयार हुआ जिसे भारत के सबसे बड़ा राष्ट्रीय अवार्ड इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज कराने में स्वस्ति धाम कार्याध्यक्ष जय कुमार कोठारी एवं पवन अजमेरा का विशेष योगदान रहा। चौधरी ने मंदिर के बारे में समस्त जानकारी प्राप्त करने के बाद भारत के सबसे बड़े जहाज मंदिर होने की घोषणा की एवं इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड का सर्टिफिकेट
*BIGGEST TEMPLE Swastidham CONSTRUCTED IN THE SHAPE OF A SHIP*
The record for constructing the biggest temple ‘atishaikari ‘Shri 1008 Munisuvratnath Digambar Jain Atishay Kshetra’ (Swastidham)in the shape of a ship was set and developed the whole swastidham kshetra and ship temple under the guidance and supervision of Aaryika ratn 105 Shri Swasti Bhushan Mataji, at Jahajpur. Bhilwara, Rajasthan, February 5,2020.प्रदान किया
मंदिर की लंबाई, चौड़ाई, ऊंचाई ,गहराई ,कितने साल में यह तैयार हुआ ,कितना सीमेंट, रेट ,कंक्रीट ,लोहा आदि लगा कितना मेन पावर लगा आदि समस्त जानकारी के बाद आज यह मंदिर इंडिया का सबसे बड़ा जहाज मंदिर के रूप में इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड मैं दर्ज हुआ।