After China, Israel and South Africa, now signs of fourth wave of corona in India
सीकर

सीकर जिला कलेक्टर व प्रसासन की अपील हमे सख्ती करने पर ना करे मजबूर

Sikar/अशफाक कायमखानी।सीकर जिला कलेक्टर ने आज अपने आवास पर ली अधिकारियों की मीटिंग और उसमें शक्ति से पालना कराने के दिये निर्देश ! साथ ही अनेक मुद्दों पर चर्चा कर दिशा निर्देश जारी किये।
उन्होंने आमजन से व विवाह शादियों वाले से अपील की ओर कहा कि कोरोना गाडलाइन्स की पालना के अनुरूप ही कार्य करे जिससे आपके शुभकार्य में कोई बाधा नही पड़े , हम नहीं चाहते कि आपको मुश्किलों का सामना करना पड़े, आपके शुभ कार्य में बाधा हम नही चाहते , उन्होंने समस्त आमजन से भी अपील की कि आपके सहयोग से हम इस महामारी से उबर सकते हैं आप सब सहयोग करें और कोरोना गाइडलाइंस की संपूर्ण पालना करें ।

 

आपात बैठक: नया कोविड केयर सेंटर बनेगा, डोर टू डोर होगा सर्वे

सीकर जिले में सांवली स्थित कोविड सेंटर के पास एक नया कोविड (Covid 19) केयर सेंटर शुरू होगा। जिसमें होम क्वारंटीन की सुविधा से रहित व कम गंभीर मरीजों का उपचार होगा।

सीकर जिले में सांवली स्थित कोविड सेंटर के पास एक नया कोविड केयर सेंटर शुरू होगा। जिसमें होम क्वारंटीन की सुविधा से रहित व कम गंभीर मरीजों का उपचार होगा।

यह फैसला कलक्टर आवास पर पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की हुई आपात बैठक में हुआ है। कलक्टर अविचल चतुर्वेदी ने बताया कि समाज कल्याण विभाग के खाली पड़े हॉस्टल को कॉविड केयर सेंटर का रूप दिया जाएगा। जहां कोरोना के उन मरीजों को रखा जाएगा जिनके पास होम क्वारंटीन की सुविधा नहीं है या कोरोना (Corona Virus) के गंभीर लक्षण नहीं होने से उन्हें ऑक्सीजन व वेंटीलेटर की आवश्यकता नहीं है।

बैठक में एडीएम धारासिंह मीणा, एसडीएम गरीमा लाटा, मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डा. केके वर्मा, एसके अस्पताल के पीएमओ डा. अशोक कुमार, सीओ सिटी वीरेन्द्र शर्मा, नगर परिषद आयुक्त श्रवण विश्नोई, यूआईटी सचिव इंद्रजीत सिंह, महिला एवं बाल विकास विभाग उपनिदेशक सुमन पारीक सहित पुलिस व प्रशासन के कई अधिकारी मौजूद रहे।

डोर टू डोर सर्वे से होगी मरीजों की पहचानबैठक में कलक्टर ने कोरोना मरीजों की पहचान व जांच के लिए डोर टू डोर सर्वे की भी बात कही।

उन्होंने कहा कि बहुत से कोरोना मरीजों में लक्षण प्रकट होने के साथ ही उनकी हालत गंभीर होन के मामले सामने आ रहे हैं। बहुत से जांच से भी बच रहे हैं। ऐसे में एसडीएम के निर्देशन में टीम बनाकर डोर टू डोर सर्वे करवाया जाएगा।

जो कंटेन्मेंट जोन से शुरू होगा। टीम में हेल्थ वर्कर्स, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, नगर परिषद व पुलिस विभाग के कर्मचारियों के अलावा नर्सिंग छात्र शामिल किए जाएंगे।जो घर घर जाकर लोगों की सेहत की जानकारी लेंगे। कोरोना के लक्षण पाए जाने पर लोगों के सैंपल लेकर उपचार शुरू किया जाएगा।

कोविड सेंटर में बढ़ेगी सुविधा बैठक में जिले में पहले से संचालित सांवली कोविड सेंटर की सुविधाओं पर भी चर्चा हुई। कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सेंटर पर ऑक्सीजन व स्टाफ सहित अन्य सुविधाएं बढ़ाने के निर्देश कलक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दिए।

इस दौरान कलक्टर ने मीडिया के जरिए लोगों से कोरोना गाइडलाइन की पालना करने की अपील भी की। कहा कि कोरोना संक्रमण के संघर्ष में खुद के साथ समाज को बचाने की जिम्मेदारी हर नागरिक को समझनी होगी।

Reporters Dainik Reporters
[email protected], Provide you real and authentic fact news at Dainik Reporter.