राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती वर्ष के अन्तर्गत मनाए जा रहे अमृत महोत्सव के कार्यक्रमों की श्रृंखला में गांधी प्रदर्शनी आयोजित

Sikar। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती वर्ष के अन्तर्गत मनाए जा रहे अमृत महोत्सव के कार्यक्रमों की श्रृंखला में रविवार को शहर के नवलगढ़ रोड़ स्थित शिवसिंहपुरा में ग्रामीण महिला शिक्षण संस्थान में गांधी

प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। प्रदर्शनी का उद्घाटन अतिरिक्त जिला कलेक्टर धारा सिंह मीणा ने फीता काटकर किया गया।

इस मौके पर अतिरिक्त जिला कलेक्टर धारा सिंह मीणा ने बताया कि आजादी के अमृत महोत्सव के कार्यक्रमों की श्रृंखला में महिला अधिकारिता विभाग एवं ग्रामीण महिला

शिक्षण संस्थान की ओर से शिवसिंहपुरा स्थित ग्रामीण महिला शिक्षण संस्थान में कस्तूरबा गांधी जीवन प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। मीणा ने कहा कि कस्तूरबा

गांधीजी के प्रत्येक आंदोलन में उनके साथ रही और उनका आजादी में बहुत बड़ा योगदान रहा है और जब गांधीजी विभिन्न आंदोलनों में उपवास करते थे और कई

बार जब उन्हें जेल भी जाना पड़ता था तो कस्तूरबा ने प्रत्येक परिस्थिति में गांधी जी का साथ दिया और हर क्षण उनके साथ साए की तरह रही। मीणा ने कहा कि कस्तूरबा का आजादी में योगदान अविस्मरणीय है।

मीणा ने जिले के आमजन से अपील करते हुए कहा कि सभी इस प्रदर्शनी को आकर देखें जिससे कि उन्हें कस्तूरबा गांधी के जीवन व आजादी में दिये गये योगदान के बारे में जानकारी हो सके। उन्होंने प्रदर्शनी का गहनता के साथ अवलोकन कर प्रदर्शनी को आमजन के लिए उपयोगी बताया।

इस दौरान राज्य बाल संरक्षण आयोग सदस्य शिवभगवान नागा, सहायक निदेशक महिला अधिकारिता डॉ. अनुराधा सक्सेना, सूचना एवं जनसम्पर्क अधिकारी पूरण मल, सुरेन्द्र सिंह प्राचार्य ग्रामीण महिला शिक्षण संस्थान, चैन

सिंह आर्य अध्यक्ष, हरफूल सिंह खीचड़ कोषाध्यक्ष, एचआर गोदारा सचिव, निदेशक सांख्यिकी इन्दिरा शर्मा, सहायक निदेशक प्रशासनिक सुधार राकेश लाटा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग सहायक

निदेशक ओमप्रकाश राहड़, व्याख्याता सरोज लोयल, पिपराली सीडीपीओ राजेन्द्र घोसल्या, हमीद अली

लेखाकार, महेन्द्र कुमार शर्मा सहायक प्रशासनिक अधिकारी, स्काउट गाईड की छात्र-छात्राएं, स्टाफ, गणमान्य नागरिक उपस्थित रहें ।