Shekhawat's allegations politically motivated, disappointed not to speak on ERCP: Dotasra
जयपुर राजस्थान

शेखावत के आरोप राजनीति से प्रेरित,ईआरसीपी पर नहीं बोलने से निराशा हुई: डोटासरा VIDEO

जयपुर/ केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र शेखावत के दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस करके राज्य सरकार पर अपराधों को लेकर लगाए आरोपों पर पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा ने निशाना साधा। डोटासरा ने कहा कि शेखावत के झूठे भाषण से निराशा हुई। ईआरसीपी पर नहीं बोलकर शेखावत ने राजस्थान की जनता को निराश किया है।

पीसीसी में मीडिया से बातचीत करते हुए डोटासरा ने कहा कि शेखावत की दिल्ली में प्रेसवार्ता को सुनकर हम काफी निराश हुए। उन्होंने पेयजल,बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर बात नहीं की और ना ही ईआरसीपी पर बोले। केवल बेमौसम का चुनावी भाषण देकर रवाना हो गए। पिछले 8 साल के केंद्र के शासन में राजस्थान की जनता को राहत देने का कोई काम नहीं किया। अब राजस्थान सरकार पर आरोप लगाकर अपना झूठ छिपाने की कोशिश कर रहे हैं। शेखावत के इन राजनीति से प्रेरित आरोपों की निंदा करता हूं।

शेखावत ईआरसीपी पर कुछ नहीं बोले,लेकिन नितिन गडकरी को चुनाव समिति से हटाने को लेकर खुश जरूर थे,क्योंकि उनका एक कांटा दूर हो गया। राजस्थान सरकार पर हमला करने के लिए उन्होनें दिल्ली का मंच इसलिए चुना,ताकि पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को परेशान कर सकें। शेखावत ने अपनी खीझ मिटाने के लिए आरोप लगाए,क्योंकि वे राजस्थान की सरकार गिराने में कामयाब नहीं हो पाए। अपना सपना पूरा नहीं होने से वे काफी निराश हैं।

डोटासरा ने कहा कि शेखावत के आरोपों में इसलिए दम नहीं है,क्योंकि देश के वर्तमान हालातों में राजस्थान सरकार बेस्ट सरकार है। अलवर घटना पर कहा कि इस तरह की घटनाओं को हमारी सरकार ने कभी बर्दाश्त नही किया। दोषियों को तुरंत पकड़ा और सजा दिलाने का काम किया। जालौर की घटना हो या उदयपुर की घटना हो,कांग्रेस हर घटना में तुरन्त कार्यवाही की है।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/