जयपुर राजस्थान

राज्यसभा चुनाव: कांग्रेस को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों में सेंधमारी का डर, बाड़ेबंदी की तैयारी

जयपुर। राज्यसभा चुनाव में कल भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी सुभाष चंद्रा के नामांकन के बाद कांग्रेस को अब विधायकों में सेंधमारी का डर सताने लगा है। सरकार को समर्थन दे रहे 13 निर्दलीय विधायकों में गहलोत सरकार को सेंधमारी का डर सता रहा है, जिसके चलते अब कांग्रेस पार्टी कांग्रेस विधायकों और सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों की बाड़ेबंदी की तैयारी में है।

बाड़ेबंदी को लेकर खुद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कल संकेत भी दिए थे। हालांकि कांग्रेस की ओर से दावे किए जा रहे हैं कि 126 विधायकों का समर्थन उनके पास है इसलिए वह तीनों सीटों पर आसानी से चुनाव जीत जाएंगे, लेकिन कांग्रेस पार्टी भले ही 126 विधायकों के समर्थन का दावा करे लेकिन अंदर खाने कांग्रेस पार्टी को निर्दलीय विधायकों में सेंधमारी का डर सता रहा है।

जयपुर या उदयपुर में बाड़ाबंदी की तैयारी

सत्ता और संगठन से जुड़े सूत्रों की माने तो मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा जयपुर या उदयपुर में बाड़ेबंदी की तैयारी में जुट गए हैं। हालांकि जयपुर में पहले भी कई बार बाड़ेबंदी हो चुके हैं, लेकिन इस बार जयपुर के स्थान पर उदयपुर को बाड़ेबंदी के लिहाज से सुरक्षित माना जा रहा है। कांग्रेस चिंतन शिविर के उदयपुर में सफल आयोजन के बाद अब बाड़ेबंदी के लिए उदयपुर को चुना जा रहा है। हालांकि कांग्रेस के कई नेताओं ने कल जयपुर में भी बाड़ेबंदी के लिए उपयुक्त स्थान की तलाश की थी।

2 जून को शाम 5 बजे से बाड़ेबंदी के संकेत

बताया जाता है कि कांग्रेस कल 2 जून शाम 5 बजे से अपने और समर्थि विधायकों की बाड़ेबंदी करेगी। शाम 5 बजे कांग्रेस की दो दिवसीय कार्यशाला समाप्त होगी और कार्यशाला से ही विधायकों को बाड़ेबंदी में ले जाया जाएगा। चर्चा यह भी है कि बाड़ेबंदी में कांग्रेस विधायकों के साथ-साथ निर्दलीय विधायकों, बसपा से कांग्रेस में आए विधायक, बीजेपी, आरएलडी और माकपा विधायकों की भी बाड़ेबंदी की जाएगी।

महेश जोशी के स्थान पर किसे मिलेगी बाड़ेबंदी की कमान

इधर हर बार बाड़ेबंदी की की कमान संभालने वाले जलदाय मंत्री महेश जोशी के स्थान पर इस बार किसी बाड़ेबंदी की कमान दी जाएगी। इसे लेकर भी चर्चाओं का दौर है। पारिवारिक कारणों के चलते महेश जोशी ने इस बार बाड़ेबंदी की कमान संभालने से इनकार कर दिया है। ऐसे में अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने किसी विश्वस्त व्यक्ति को बाड़ेबंदी की कमान सौंपेंगें।

हरियाणा कांग्रेस के विधायक आज शाम को आ सकते हैं जयपुर

इधर खरीद-फरोख्त की आशंका के चलते हरियाणा कांग्रेस के 31 विधायकों को भी जयपुर शिफ्ट किए जाने की तैयारी है। आज शाम को उनके जयपुर शिफ्ट होने के संकेत दिए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि हरियाणा कांग्रेस के 31 विधायकों को दिल्ली रोड स्थित एक लग्जरी रिसॉर्ट में ठहराया जाएगा। उनके साथ हरियाणा कांग्रेस के प्रभारी विवेक बंसल, राज्यसभा सांसद दीपेंद्र हुड्डा सहित हरियाणा कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता भी जयपुर पहुंचेंगे।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/