Today is the last day of nomination for Panchayat by-election, voting will be held on May 8
जयपुर राजस्थान

Rajya Sabha Elections : स्थानीय नेताओं को दरकिनार कर कांग्रेस ने बाहरी उम्मीदवारों पर खेला दांव, कार्यकर्ताओं में रोष,अल्पसंख्यक और एसटी वर्ग में भी नाराजगी बढ़ी

जयपुर। राज्यसभा चुनाव में स्थानीय नेताओं नेताओं कार्यकर्ताओं को दरकिनार कर कांग्रेस ने बाहरी नेताओं पर दांव खेला है। दिलचस्प बात यह है कि तीनों ही सीटों पर कांग्रेस ने अपने केंद्रीय नेताओं को मौका दिया है। स्थानीय नेताओं को मौका नहीं मिलने से कांग्रेसी के कार्यकर्ताओं और नेताओं में अंदर खाने असंतोष है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि न तो किसी भी नेता और कार्यकर्ता ने अभी तक तीनों प्रत्याशियों के स्वागत में कोई ट्वीट किया न ही कोई बयान दिया है। माना जा रहा है कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं और स्थानीय नेताओं असंतोष का सामना पार्टी नेताओं को भी करना पड़ सकता है।

अल्पसंख्यक और एसटी वर्ग में भी नाराजगी बढ़ी

इधर अल्पसंख्यक और एसटी वर्ग से प्रत्याशी नहीं बनाए जाने को लेकर भी इन दोनों वर्ग में भी कांग्रेस के प्रति नाराजगी बढ़ी है। देर रात से कांग्रेस से जुड़े अल्पसंख्यक नेताओं ने सोशल मीडिया के जरिए अपनी नाराजगी जाहिर की है और कांग्रेस आलाकमान से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने की मांग भी की है।

6 में से 5 सांसद हो जाएंगे बाहरी

दरअसल राजस्थान से कांग्रेस 6 राज्यसभा सांसदों में से पांच राज्यसभा सांसद प्रदेश से बाहर के हो जाएंगे। केवल एक नीरज डाँगी ही स्थानीय नेता है। इसके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, के सी वेणुगोपाल, रणदीप सिंह सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी राजस्थान से बाहर के हैं।

आलाकमान के फैसले से कांग्रेस नेताओं को भी हैरानी

इधर पार्टी आलाकमान के फैसले से कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं को भी हैरानी है। हैरानी इस बात की है कि पार्टी आलाकमान ने तीनों ही सीटों पर बाहरी उम्मीदवारों को मौका दिया है जबकि कम से कम एक सीट पर तो स्थानीय नेताओं को मौका मिलना चाहिए था।

सोनिया- राहुल और प्रियंका के करीबी नेताओं को मिला मौका

दिलचस्प बात यह भी है कि कांग्रेस की ओर से घोषित किए गए तीनों प्रत्याशी सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के बेहद करीबी माने जाते हैं। कांग्रेस के राष्ट्रीय मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला राहुल गांधी के बेहद करीबी हैं तो मुकुल वासनिक सोनिया गांधी के करीबी हैं और प्रमोद तिवारी कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के बेदर्दी की माने जाते हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी कल भरेंगे नामांकन

इधर राज्यसभा चुनाव के लिए घोषित किए गए तीनों कांग्रेस प्रत्याशी कल अपना नामांकन दाखिल करेंगे। तीनों प्रत्याशी आज रात जयपुर पहुंचेंगे उसके बाद कल सुबह अपने अपने प्रस्तावको के साथ विधानसभा में नामांकन दाखिल करेंगे।इस दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मंत्रिमंडल के सदस्य,विधायक और पार्टी के नेता भी शामिल होंगे।

Sameer Ur Rehman
Editor - Dainik Reporters http://www.dainikreporters.com/