राजस्थान सरकार की नई पहल, घर बैठे विधार्थियों की होगी, पढाई कैसे पढे

Bhilwara news । कोरोना वायरस (coronavirus)के कोहराम से चल रहे लाॅकडाउन(lock down) और के कारण प्रदेश के सभी बंद सरकारी स्कूलों के विधार्थियों व शिक्षको का अध्ययन व अध्यापन कार्य बना रहे इस सोच को लेकर सरकार ने एक नई अनूठी पहल करते हुए स्माइल सोशल मीडिया के जरिए पूरे प्रदेश मे विधार्थियों की कल …

राजस्थान सरकार की नई पहल, घर बैठे विधार्थियों की होगी, पढाई कैसे पढे Read More »

April 12, 2020 1:51 pm

Bhilwara news । कोरोना वायरस (coronavirus)के कोहराम से चल रहे लाॅकडाउन(lock down) और के कारण प्रदेश के सभी बंद सरकारी स्कूलों के विधार्थियों व शिक्षको का अध्ययन व अध्यापन कार्य बना रहे इस सोच को लेकर सरकार ने एक नई अनूठी पहल करते हुए स्माइल सोशल मीडिया के जरिए पूरे प्रदेश मे विधार्थियों की कल से पढाई शुरू कराई जाएगी । शिक्षा विभाग ने इसकी सभी तैयारियां पूरी कर ली है ।

माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने dainikpeporters.com  के एडिटर चेतन ठठेरा  को बातचीत मे यह जानकारी देते हुए बताया की स्माइली सोशल मीडिया के जरिए इन लाॅकडाउन के दौरान घर बैठे विधार्थियों व शिक्षक की घर बैठे पढाई और अध्यापन कार्य जारी रहे । उन्होने बताया की कल से ही यह व्यवस्था शुरू कर दी जाएगी जाने क्या रहेगा ।

क्या और कैसे होगी पढाई

1– कल से रोजाना अध्ययन सामग्री की 4 से 5 वीडियो व्हाइट एप ग्रुप पर डाली जाएगी वीडियो 30 से 40 मिनट का होगा
2– अलग-अलग खंड होंगे जो इस तरह होगे -कक्षा 1 से 2, कक्षा 3 से 5, कक्षा 6 से 8, कक्षा 9 से 12 तक की अध्ययन सामग्री होगी
3– विषय सामग्री राजस्थान स्तर पर विषय विशेषज्ञो द्वारा बनाई गई टीम तैयार करेगी और स्वीकृति देगी और वह ही पोस्ट करेगी
4– रोजाना सवेले 9 बजे संदेश के साथ पाठ्य सामग्री डाली जाएगी

20 हजार व्हाइट एप ग्रुप बनाए

निदेशक सौरभ स्वामी ने बताया की करीब अब तक 20 हजार व्हाइट एप ग्रुप बनाए गए है और सीडीईओ, सीबीईओ व प्रिंसीपल, प्रधानाचार्य के जरिए विधार्थियों के परिजनो को ग्रुप से जोडा जा रहा है । इसमे दो ग्रुप बनाए जा रहे है शिक्षक का और परिजनो का यह जिला स्तर पर है । उन्होंने बताया की रोजाना सवेरे 9 बजे संदेश के साथ ही पाठ्य सामग्री डाली जाएगी

शिक्षक सीधे पाठ्य सामग्री नही डाल सकेंगे

व्हाटस ऐप ग्रुप पर कोई भी शिक्षक , प्रिंसीपल , प्रधानाचार्य सीधे पाठ्य सामग्री नही डाल सकेंगे । अगर कोई विषय का शिक्षक कोई पाठ्य सामग्री डालना चाहता है तो उसे पाठ्य सामग्री बना कर एनसीआरटी के लिंक पर भेजनी होगी वहां कमेटी उसे एप्रूव्ल ( स्वीकृति) देगे और फिर राज्य स्तर से ही वह सामग्री व्हाइट एप ग्रुप पर डाली जाएगी ।

Prev Post

Tonk / टोंक में डिप्टी सौरभ तिवारी ने संभाली कमान,पुलिस की सख्ती से गलियों में भी पसरा सन्नाटा

Next Post

Tonk / टोंक में मिले11नए पॉजिटिव,कुल 58 कोरोना रोगी होने से टोंक बना कोरोना हॉट स्पॉट

Related Post

भीलवाड़ा में लघु उद्योग भारती की महिला इकाई का दो दिवसीय मेले शुरू, कई उत्पाद आकर्षण का केंद्र
September 27, 2022 8:30 pm

Latest News

राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस

Trending News

केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस

Top News

राजस्थान में भी CM गहलोत ने राज्य कर्मचारियों को दिवाली की सौगात बढ़ाया डीए खबर पर मोहर
बच्चियों को कहा मत दो वोट,पाकिस्तान चली जाओ -IAS हरजोत कौर
राजस्थान शिक्षा विभाग- घोटालेबाज बाबू डेढ माह से नही आ रहा ड्यूटी पर लापता, DEO बचा रहे है या... ?
राजस्थान शिक्षा विभाग- लाखों का घोटाला फिर भी अब तक दोषी प्रिंसिपल पर कार्यवाही क्यो ?
केंद्र सरकार ने कर्मचारियों को दीपावली का तोहफा बढ़ाया DA, राजस्थान मे भी अब..
राजस्थान में 4 बच्चों की डूबने से मौत
Ban on 8 affiliated organizations including PFI in the country, know
सीएम गहलोत को क्लीन चिट,धारीवाल -जोशी को कारण बताओ नोटिस
राजस्थान घमासान- गहलोत को क्लिनचिट,धारीवाल सहित 3 को नोटिस
मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास का बीजेपी पर आरोप सरकार गिराने का फिर हो रहा है षड्यंत्र